सत्ता सभी तालों की मास्टर चाबी है, जिस पर आपका अधिकार होना चाहिए

अलीगढ़, एकलव्य मानव संदेश।
ब्राह्मण अपने होशियार लायक बच्चों को पढ़ा लिखा कर डाक्टर, इंजीनियर, IAS, IPS बनाता है। और जो बच्चे नालायक होते हैं, दूसरी क्लास भी पढे नहीं होते, उनको पुजारी बनाकर मंदिर में बिठा देता है। और उस नालायक के, हमारे SC/ST/OBC के *पढे लिखे अधिकारी पैर छूते हैं, पूजते है।* 
दस लाख से पचास लाख खर्च करके पढ़ाई करके बड़े पदों पर पहुँच कर भी *पाँचवी फेल से पूछते है* कि बेटी बेटे का नाम क्या रखना है। कब किस तिथि पर विवाह करना है। घर का द्वार किस ओर रखना है। और घर मे कब प्रवेश करना है। यह है *ब्राह्मण की कला जो मानसिक गुलाम बनाती है।* आइये बढाते हैं आजादी की ओर एक कदम आज ही अपने ओर अपनी पीढ़ियों के लिए....
सत्ता का पाठ पढिये,
सत्ता सभी तालों की मास्टर चाबी है।
निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल(N.S.H.A.D. पार्टी के साथ चलिये।
अपने बच्चों और देश की तक़दीर बदलिये
    ओइम   नमों निषाद राजाय नम:।