एक शिक्षा मित्र अध्यापक की अपने साथियों से अपील ?

बाह, आगरा, एकलव्य मानव सन्देश रिपोर्टर, 27 जुलाई 2017।
सभी साथियो को क्रांतिकारी अभिवादन
मे एक भारतीय हूँ। भारतीय संविधान मे प्रत्येक व्यक्ति को अपनी रोजी रोटी का अधिकार कानून है । अगर हम किसी को नौकरी दे नहीं सकते तो नौकरी लेने का भी अधिकार नहीं है। आपके साथ सोची समझी साजिश के तहत धोखा हुआ है । मेरा सभी प्रदेश के साथियो से निवेदन है समस्त हाइवे जाम कर दो । आपकी बात सुनी जायेगी । नहीं तो कुछ नहीं । मैं डरपोक व कायर नहीं हूँ। आज आपका पहले की तरह मीडिया भी साथ नहीं दे रहा है । कोर्ट ने आपको एक घटिया इंसान साबित कर दिया है । अगर आप सरदार भगत सिंह और सुभाषचंद्र जी का रास्ता अख्तियार कर सकते हो तो मे आपके साथ हूँ। नहीं तो मैं घर बैठा हूँ ।
जय हिंद ।
आपका
नन्दकिशोर  आगरा ।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास