गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में सरकारी लापरवाही से मृत बच्चों के परिजनों को मिलें 25-25 लाख-डॉ संजय निषाद

गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर, 12 अगस्त 2017। गरीबो के बच्चों का इलाज सरकारी अस्पताल में होता है। गरीबों के नौनिहालो के जीवन के साथ इतना भयंकर खिलवाड़, वह भी वहाँ जहाँ का प्रदेश का मुखिया स्वयं हो! जिम्मेदारों के खिलाफ सख्त दण्डात्मक कार्यवाही होनी चाहिए और परिजनों को कम से कम पच्चीस लाख का मुआवजा मिलना चाहिए। ऐसा नहीं हुआ तो निषाद पार्टी आन्दोलन के लिए तैयार है।
यह बात, विगत विगत दिनों गोरखपुर के मेडिकल कॉलेज में सरकारी लापरवाही से 30 से ज्यादा बच्चों के ऑक्सीजन की कमी से मौत के मुँह में चले जाने के बाद, निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद पार्टी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजय कुमार निषाद ने एक व्यान जारी करके कही है।