पिपराइच विधानसभा में एनडीआरएफ की टीम बिना सहायता पहुँचाये ही लौटी

गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश के लिये अरविंद निषाद उर्फ राजा की रिपोर्ट, 24 अगस्त 2017। अभी दिन का उजाला है, लेकिन एनडीआरएफ को निषादों के गाँव में जाने के लिए समय नहीं है। करीब 6 बजे से पहले ही एनडीआरएफ को बाढ़ पीड़ितों तक समान पहुचाने में डर लग रहा है। पूरा गांव पानी से घिरा हुआ है। कहीं से कुछ भी बिना नाव के गांव तक नहीं पहुंच सकता है। और सरकारी एजेंसी एनडीआरएफ भगवा रंग चढ़ाने के लिए अपने कपड़ों को भगवा पहनने का ध्यान रखने में कोई गुरेज नहीं है, लेकिन भूख, प्यास और बीमारियों से मरते बाढ़ पीड़ितों तक पहुंचने के लिए केवल एक किलोमीटर की दूरी तय करने के लिए समयनहीं है, क्यों की यह गांव निषाद बाहुल्य है।
योगी जी का ग्रह जनपद और उनकी लोकसभा क्षेत्र का इलाका सरकारी उपेक्षा का जीवित उदाहरण है आज भी।