विकास पैदा होते ही खत्म हो गया ?

एकलव्य मानव संदेश सोशल मीडिया रिपोर्टर।
आज के विकसित भारत की तस्वीर
विकास पैदा होते ही खत्म हो गयाध्य प्रदेश के कटनी में।
मध्यप्रदेश में गाय के लिए एम्बुलेंस बनाने के नाम पर करोड़ों डकारे जा रहे हैं,
मगर न लाश के लिए,
न गर्भवती स्त्रियों के लिए ऐसी कोई सुविधा है।
झारखंड के वनमंत्री की पत्नी वनों को काट कर रिसोर्ट बनाये क्या फ़र्क़ पड़ता है।
आदिवासी नक्सली होते हैं, ऐसा फैलाया जाता है।
नक्सली बनते क्यों हैं,
इस पर कोई बात नही करता है।
फ़ोटो में दिखाई आदिवासी औरत को समय पर वाहन नही मिला,
नतीजा सड़क पर प्रसव,
और सड़क पर गिरने से शिशु की मौत ?
अब ये किसी मंत्री या फिल्मी सितारे का बच्चा तो था नहीं।
जिसके मरने पर किसी को अफसोस होगा ? बच्चे की नाल तक नही कटी है अभी
                       कोई बात नही थोड़ी मानवता बची हो तो सिस्टम पर शर्म कर लीजिए!
असल मे मोदी जी अब कह सकते हैं, प्रामाणिक तौर पर
विकास पैदा होते ही खत्म हो गया ?