बड़ी मसक्कत के बाद, चकमार्ग निर्माण का कार्य हुआ आरम्भ

सिकरारा, जौनपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर प्रदीप निषाद की रिपोर्ट, 6 अगस्त 2017। जौनपुर के सिकरारा के पास स्थित, लाला बाजार से सटा ग्राम विशुनपुर पुलगुजर में निषाद बस्ती व शिवमंदिर तक आने जाने हेतु चकरोड निर्माण में तीन चार माह से विवाद चल रहा था। चकमार्ग नक्से में दर्ज है लिहाजा दो तीन बार नाप होने के बावजुद भी लालजी यादव व फुर्तीलाल कन्नौजिया (जिलापंचायत सदस्य) नहीं बनने दे रहे थे। क्योकि इनका चकमार्ग पर पुरी तरह से कब्जा था। रोड न बने इसके लिए सभी प्रयास किए यहाँ तक की फुर्तीलाल अपना खेत भी स्टे करवाया। ग्राम प्रधान विरेन्द्र यादव व सहयोगियों ने  डा. संदीप निषाद, प्रदीप निषाद व रामकीरत निषाद को हड़काने धमकाने चाहा और कहा की यहाँ क्या है तुम सबका जो यहाँ चले आये हो। यहाँ चकरोड के मामले मे दिखे तो पैर तोड़ दूगा व मारने की धमकी भी दे डाली। तो निषादगण व प्रधान जिद पर आ गये। चकरोड तो बनकर रहेगा, यह ठान खड़े हुए। ग्राम प्रधान विरेन्द्र यादव तथा सहयोगियो पर sc st भी लगवाया। कचहरी के कई बार चक्कर लगाए। इतना होने के बावजुद हिम्मत न हारते हुए विरेन्द्र यादव ने प्रशासन सहित नाप कराके चकरोड निर्माण का कार्य शुरू कराया। चकरोड पर मिट्टी पड़ना शुरू हुआ तीन दिन मिट्टी पड़ने के बाद चकरोड के बीच आये वृक्षों को काटने पर फिर एक बार विपक्षी से झड़प हुआ। दरोगा आये, बोले पेड़ कोई नही ले जाएगा कटवा कर किनारे रखवा दिए कार्य प्रगती पर है़।