रेल दुर्घटना के लिये केवल कर्मचारियों पर गाज गिरने से कुछ नहीं होगा ?

अलीगढ़, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो, 25 अगस्त 2017। रेल दुर्घटना पर सर पीटने से कोई हल नहीं निकलने वाला। आला अधिकारियों पर गाज गिराने से भी कोई फायदा नहीं होपे वाला। रेलवे को मजबूत आधार दे रखा है रेलवे के कर्मचारियों ने। रेलवे कर्मचारी तरह -तरह से प्रताड़ित हैं। कहीं काम का बोझ ज्यादा है, तो कही कर्मचारी की कमी। हर जगह शोषण का साम्राज्य है। किसी न किसी रूप मे कर्मचारियों का शोषण जारी है। छुट्टी मांगे तो शोषण, रेलवे हास्पिटल जाये तो शोषण, मंडल कार्यालय जाये तो महाशोषण? ऐसे शोषण के माहौल मे भी कर्मचारी अत्यंत निष्ठावान है, ये रेलवे का सौभाग्य है।
           (रेल कर्मचारियों से हुई बातचीत के आधार पर)