क्यों कहा जाता है डॉ संजय कुमार निषाद को गरीबों का मशीहा ?

गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर, 19 अगस्त 2017। ये है महामना डॉ0 संजय कुमार निषाद जी का जुनून और ताकत।जिसके बदौलत उन्हें गरीबो का मसीह माना जाता है।
गोरखपुर और अन्य जिलों आयी प्रलयकारी बाढ़ से जिस हालात में लोगों का जीवन परेशानियों से जूझ रहा है। लोग बदहाल और बेबस हैं। उसी तरह से  महामना डॉ0 संजय निषाद जी और उनके जबाज सिपाहियो ने अनन फानन में गोरखपुर के बाढ़ प्रभावित इलाकों में स्वयं अपनी जान की परवाह न करते हुए खुद नाव से जाकर पीड़ितों के लिए राहत सामग्री और जरूरी समान बांटा, उसकी जितनी भी प्रशंसा की जय कम ही है। डॉ संजय कुमार निषाद जी ने अपनी राजनीतिक पारी भी, अपने बेहतरीन चिकित्सीय जीवन को छोड़ कर, सडक़ से लेकर सदन तक गरीबों को हक़ अधिकार दिलाने के लिए संघर्ष करके की है, चाहे आरक्षण की बात हो या अन्य और दूसरी और हमारे प्रदेश के मंत्रीगण केवल हेलीकाप्टर से बाढ़ में फसे लोगो का हवाई जायजा ले रहे हैं।
धिक्कार है ऐसी सरकार पर जो हाथो में इतनी बड़ी कमान होते हुए भी बेचारे गरीब लोग, जो आज बाढ़ की वजह से दो निवाले को तरस रहे हैं, उनको राहत पहुंचाने में अभी तक विफल ही रही है। इधर निषाद पार्टी और डॉ0 संजय कुमार निषाद जी यथाशक्ति अपनी तमांम कोशिशो से उन बाढ़ पीडितो की सहायता करने के लिए तत्तपर है।
सैल्युट है डॉ संजय कुमार निषाद जी के उन सभी जुझारू और कर्मठ योद्धाओं पर जो कभी, कहीं भी डॉ संजय जी के आदेश को सिरमाथे लेकर दिन रात कदम ताल बनाकर हर अभियान को एक चेलेंज के रूप में लेकर लगे हुए हैं।
जय निषाद राज
इंजी. प्रवीण कुमार निषाद
गोरखपुर।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास