आज केवल NISHAD पार्टी ही विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम चलाकर निर्बलों को सत्ता तक पहुंचने का मार्ग दिखा रही है

गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर द्वारा निषाद पार्टी के मुखिया डॉ संजय कुमार निषाद का लेख, 6 अगस्त 2017। NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसका स्पष्ट ध्येय सत्ता परिवर्तन, नीति, सिद्धान्त एव विशेष प्रकार की कार्यप्रणाली है। उद्देश्यपूर्ति हेतु अनुशासित कार्यकर्ताओं की खोज एवं पार्टी कार्यकारणी गठन हेतु पहले पूरे देश एवं प्रदेश में राष्ट्रीय निषाद एकता परिषद के माध्यम से ऐतिहासिक, सामाजिक, वैचारिक, राजनैतिक और वोटर कैडर से निर्बलों, शोषितों एवं वंचितो को जानकार, समझदार, ज्ञानवान एवं होशियार बनाकर अनुशासित कार्यकर्ताओ की फौज तैयार किया है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसमें कई प्रदेशो तथा उत्तर प्रदेश के लगभग ज्यादातर जिलो के सैकड़ो लोग मिलकर 2015 में "निर्बल ईण्डियन शोषित हमारा आम दल" कार्यकारिणी गठन कर निर्वाचन आयोग से 16 अगस्त 2016 पंजीकृत कराकर 2017 में विधान सभा चुनाव लड़ाकर राजनैतिक चेतना विहिन समाज में चेतना लाकर एक सीट जितकर, 50 सीटो पर बेहतर प्रदर्शन कर 70 वर्षों का जंगल राज खत्म कर दिया।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसने कांग्रेस, सपा, बसपा, भाजपा के एजेन्टों, तितरों तथा समाज में पल रहे विभीषणों का जो कहते थे कि डाॅ. संजय निषाद जी पार्टी नहीं बनायेंगे, पंजीकृत नहीं करायेंगे, जब पार्टी पंजीकृत हो गयी तब कहने लगे चुनाव चिन्ह नहीं मिलेगा, किसी पार्टी को समर्थन कर देंगे पार्टी  एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष पर आदि आदि आरोप लगाने एवं समाज को गुमराह करने वाले ये भ्रष्ट राजनैतिक पार्टीयों के सौदागरों की दुकान बंद कराकर वंचित समाज को राजनैतिक हथियार देकर मजबूत किया है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जो वंचित समाज को उनका संवैधानिक हक हिस्सा, आरक्षण दिलाने हेतु 17 फरवरी 2014 सीएम हाऊस लखनऊ, 7जून 2015 रेल रोको आन्दोलन गोरखपुर, 27 मार्च 2017 जन्तर-मंतर दिल्ली एवं हर महिने जिलाधिकारियों के माध्यम से ज्ञापन संघर्ष करते हुए 2019 के लोक सभा चुनाव जितने हेतु अनुशासित कार्यकर्ताओं को शिक्षित-प्रशिक्षित कर प्रदेश कमेटी, मंडल, जिला, विधान सभा तथा बूथ लेवल कमेटी गठन की प्रक्रिया लगातार चलाती रहती है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जहां बिना गुमराह हुए अनुशासित लोग अपने परिवार सहित माया, मुलायम, योगी, मोदी के जंगलराज खत्म करने एवं अपना खोया हुआ गौरवशाली इतिहास वापस पाने के लिए रात दिन मेहनत कर रहे है। ऐसे सभी कार्यकर्ताओ को समाज हमेशा याद करेगा।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसमे बहुत लोग अपने परिवार सहित पार्टी के पदाधिकारी बनकर जिला स्तर पर अपने सक्षम पदाधिकारी से सम्पर्क कर प्रशिणोपरान्त क्षमतानुसार जिम्मेदारी लेकर कैडर के सभी गुणों को विकसित कर ईमानदारी से अनुशासन में रहकर लक्ष्य प्राप्ति हेतु दिन रात काम कर रहे है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसमे लक्ष्य प्राप्ति हेतु दुश्मन पार्टीयों को परास्त करने के लिए पार्टी को शक्तिशाली बनाने हेतु प्रत्येक कार्यकर्ता को अपने सीमित साधन-संसाधनो से प्रतिदिन पार्टी के उद्देश्य, विचारधारा, निति, कार्यप्रणाली एवं सिद्धान्त का प्रचार-प्रसार कर कार्यक्रम, कार्यकर्ता एवं कोष का निर्माण कर आगे लक्ष्य तरफ बढ़ रहे है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसमें सुचिता एवं पंजीकरण नियमितिकरण हेतु पदाधिकारी द्वारा लिये गये रसीदों का लेखा-जोखा आय-व्यय एवं अन्य विवरण समय-समय आयोजित मिंटीगों, अधिवेशनो, शिक्षण-प्रशिक्षण कैडर कैम्पों तथा कार्यालयो में जमाकर अनुशासन का परिचय देते है। जो अब निर्वाचन आयोग द्वारा अधिकृत लेखा परिक्षक से परिक्षण कराकर जमा कराना आसान है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसके पास वंचित समाज के भविष्य निर्माण सुनियोज योजनाएं है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी जिसका उद्देश्य सिर्फ समाज को ऐतिहासिक, सामाजिक, राजनैतिक और आर्थिक श्रोतों की जानकारी देकर उनका अधिकार दिलाने हेतु उन्हीं समाज से समय, पैसा, बुद्धि, हुनर को पार्टी के विकास मे लगाना।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसमें हजारों शिक्षित-प्रशिक्षित वक्ता तैयार कर भाजपा सपा बसपा कांग्रेस के कुटिल चाल व चरित्र को उजागर कर सचेत करना।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसमें उपेक्षित समाज के सभी उपजातियों को सवैधानिक लोकतांत्रिक तरिके से चयनित कर जिम्मेदारी के अनुसार कार्य करने का अवसर मिलता है।
NISHAD पार्टी देश में पहली एक ऐसी पार्टी है जिसमें अनुशासनहीनता करने वाले को भी सुधरने के अवसर दिये जाते है। अति और अन्त होने पर ही अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाती है। गुमराह करने वालो से सावधान रहे!