प्राइवेट बस चालकों के आतंक से टेम्पो चालक बैठे अनिश्चत कालीन धरने पर

बरेली, एकलव्य मानव सन्देश रिपोर्टर राज कुमार कश्यप की रिपोर्ट, 1 सितंबर 2017। दुनका बरेली शीशगढ रुट पर चलने बाली प्राईवेट बस मालिको के आतंक से त्रस्त होकर दुनका में टैम्पो चालक धरने पर बैठ गये हैं। टैम्पो चालको पर मीरगंज केन्द्र से 40 कि०मी० का वैध परमिट होने पर धनेटा शीशगढ रोड पर अपनी दवंगई के बल पर बस मालिक टैम्पो नही चलने दे रहे हैं । 15 दिनो से टैम्पो नहीं चलने से भुखमरी के कगार पर पहुच जाने की बात कर रहे हैं। हर अधिकारी से अपनी फरियाद करने के बाद भी कोई समाधान न होने से आज धनेटा शीशगढ रोड के किनारे दर्जनो टैम्पो चालक अनिश्चत कालीन धरने पर बैठ गये हैं।  उन्होने शीशगढ और शाही पुलिस पर भी बस मालिकों से सांठ गांठ कर उत्पीडन का भी आरोप लगाया है। बरेली शीशगढ रूट पर मिनी बसों का परमिट 32 सवारी का है। इसके बावजूद 100 से अधिक सवारियां ठूस ठूस कर भरी जाती हैं। जिम्मेदार अधिकारी आंखे मूदें देखते रहते हैं। टैम्पो न चलने से महिलाओं को बहुत ही परेशानियों का सामना कर पड रहा है।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास