योगी ने वृन्दावन में बांके बिहारी के दर्शन किये, लेकिन मकान और आश्रम तोड़े जाने से दुःखी लोगों के हाल जानने को नहीं पहुंचे

वृन्दावन, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर, 19 सितम्बर 2017। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी वृन्दावन में आज श्री बांके बिहारी जी के दर्शन करने पहुंचे, लेकिन वृन्दावन में ही मकान और आश्रम तोड़े जाने के विरोध में धरना दे रहे संत और गरीब लोगों से मिलने के लिए एक मिनट भी नहीं दे पाए। आज उत्तर प्रदेश सरकार की लचर पैरवी से वृन्दावन खादर में यमुना किनारे बसे लोगों के लगभग दो सौ मकान और आश्रम को ध्वस्त करने के आदेश इलाहाबाद हाईकोर्ट ने मथुरा वृन्दावन विकास प्राधिकरण को दिए हैं। इस आदेश के बाद लगभग 12 मकान अब तक धराशायी किये जा चुके हैं। इन पीड़ितों में से काफी संख्या निषाद वंशीय लोगों की है।
मथुरा वृन्दावन के विधायक और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा भी पीड़ितों को अभी तक मिलने का समय नहीं दे पाए हैं। और मथुरा की सांसद हेमा मालिनी आजकल अमेरिका के दौरे पर हैं।
पीड़ितों को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कोई राहत नहीं दी है।