एसपी ने किया हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्त गिरफ्तार

सिद्धार्थनगर, एकलव्य मानव संदेश के लिये प्रदीप सहानी की रिपोर्ट। सिद्धार्थनगर नगर जिले के ढेबरूआ थाना अन्तर्गत बढ़नी कस्बे मे 01-10-2017 करीब 1:30 बजे रात्रि में रवि कश्यप पुत्र ओमप्रकाश कश्यप  निवासी वार्ड नं0 9 रामजानकी मंदिर, थाना ढेबरूआ जनपद सिद्धार्थनगर की अज्ञात बदमाशों द्वारा हत्या  कर दी गई थी। जिसके सम्बन्ध में मृतक के भाई राहुल कश्यप पुत्र ओमप्रकाश  द्वारा थाना ढेबरूआ पर मु0अ0सं0 1878/2017 धारा 302 भादवि. बनाम अज्ञात के विरूद्ध पंजीकृत कराया गया था तथा राहुल मध्देशिया, प्रमोद गुप्ता, दिनू हेला के विरूद्ध अपराध करने की आशंका व्यक्त किया गया ।
पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थनगर डा0 धर्मवीर सिंह द्वारा इस हत्याकाण्ड में संलिप्त अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु अपर पुलिस अधीक्षक श्री अरविन्द मिश्र के निर्देशन में थानाध्यक्ष ढेबरुआ को उक्त घटना के अनावरण हेतु निर्देशित किया गया था। थानाध्यक्ष ढेबरूआ द्वारा की गई विवेचना / कार्यवाही में मुमताज अहमद पुत्र अलीबक्स, मुहम्मद असद पुत्र मुहम्मद अहमद सिद्दीकी, अक्कू उर्फ नियाजुद्दीन पुत्र निजामुद्दीन, आजाद पुत्र मंजूर का नाम प्रकाश में आया । नाम प्रकाश में आने पर पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा दिनांक 04-10-2017 को उपरोक्त अभियुक्त पर 25, 25 हजार रू का इनाम घोषित किया गया था। स्थानीय पुलिस व सर्विलांस टीम द्वारा पतारसी सुरागरसी किया गया एवं सर्विलांस द्वारा मृतक के मोबाइल पर आये गये कॉलों का तत्परता से अवलोकन किया गया, उसी कम्र में सुराग के आधार पर कार्यवाही शुरू की गयी ।  थानाध्यक्ष ढेबरूआ को मुखबिर द्वारा सूचना मिली की उक्त हत्या में संलिप्त अभियुक्त बढ़नी रेलवे स्टेशन पर मौजूद है, जल्दी किया गया तो उन्हे पकड़ा जा सकता है । इस सूचना पर विश्वास करते हुये थानाध्यक्ष ढेबरुआ मय पुलिस टीम बढनी रेलवे स्टेशन पर पहुंच कर अभियुक्तों कि तलाशी कर रहे थे कि अभियुक्तों द्वारा पुलिस टीम को देखकर भागने का प्रयास किया जिसे पहले से सतर्क पुलिस टीम द्वारा घेराबन्दी कर समय सुबह 6:40 बजे पकड़ लिया गया। उक्त अभियुक्तों की निशानदेही पर आला कत्ल चाकू (कटार) एवं मोबाइल फोन भी बरामद कर लिया गया है ।
पूछ-ताछ में अभियुक्तों ने बताया कि रवि को किसी ने बता दिया था की मुमताज उसकी प्रेमिका का पिछा करता है व उसे तंग करता है। इस बात को लेकर रवि और मुमताज के बीच हाथा-पाई जुआ खेलते समय नेपाल राष्ट्र में कृष्णानगर में हुई। जिसमें रवि द्वारा मुमताज को धमकी दी गयी, कि मैं तुझे जान से मार दूगा। इस बात से मुमताज घबरा गया और व पहले से जानता था की रवि जो बात कहता है उसे पूरा करता है । इस कारण अक्कू से मिलकर सारी बात बताई और उन सबने रवि की  हत्या के लिए प्लान बनाकर दिनांक 01-10-2017 की रात में मुमताज द्वारा रवि को तीन बार अलग-अलग  फोन से फोन कर खाने-पीने व नशा करने के लिये कस्बे के समीप बुलाया और अरहर के खेत में ले जाकर अभियुक्त मुमताज, मुहम्मद, अक्कू द्वारा गला रेत कर निर्मम हत्या कर दिया गया। हत्या में प्रयुक्त चाकू (कटार) आजाद ने गोरखपुर से खरीदवाया था। अभियुक्त आजाद को भी हत्या की  षणयंत्र रचने के सम्बन्ध में गिरफ्तार किया गया ।
गिरफ्तार अभियुक्त का नाम पता मुमताज अहमद पुत्र अलीबक्स साकिन डिहवा वार्ड नं0 08 बढनी बाजार, थाना ढेबरूआ जनपद सिद्धार्थनगर, मुहम्मद असद पुत्र मुहम्मद अहमद सिद्दीकी साकिन सिसहनिया, थाना व जनपद सिद्धार्थनगर, अक्कू उर्फ नियाजुद्दीन पुत्र नियामुद्दीन साकिन वार्ड नं0 01 अम्बेडकर नगर बढनी थाना ढेबरुआ जनपद सिद्धार्थनगर, आजाद पुत्र मंजूर साकिन शास्त्रीनगर गोबरहवा बाजार थाना व जनपद सिद्धार्थनगर । (120 बी) अभियुक्त  के पास से मृतक का मोबाइल (oppo रंग काला) सेट नं0 A 33F अभियुक्त नियाजुद्दीन का मोबाइल (ifocues रंग स्लेटी) सेट नं0 CA486586G जिससे मृतक को फोन किया गया था। घटना में प्रयुक्त चाकू (कटार) समान बरामद किया गया ।
गिरफ्तार करने  वाली पुलिस टीम मे जयवर्धन सिंह थानाध्यक्ष ढेबरूआ ,उ0नि0 हरेन्द्र राय चौकी प्रभारी, आरक्षी दीपक गोविन्द राव, आरक्षी रविन्द्र यादव, आरक्षी धनेश दिक्षित, आरक्षी मनीष दुबे सर्विंलास टीम, आरक्षी राकेश कन्नौजिया सर्विंलास टीम, आरक्षी वृजकिशोर गुप्ता सर्विंलास टीम जनपद सिद्धार्थनगर मौजूद रहे।