गोरखपुर में निषादों की तीन बच्चियों सहित एक महिला की मौत

गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर प्रदीप कुमार निषाद कि रिपोर्ट, 4 अक्टूबर 2017। गोरखपुर में रोहिणी नदी में नाव पलट गयी। नाव में सात महिलाए सवार थी चार लापता बताई जा रही है तीन को बाहर निकाल लिया गया है। जानकारी के अनुसार सूखी लकड़िया बीनने जा रही एक बच्ची समेत चार युवतियां बुधवार को नाव पलटने से डूब गई। गोरखपुर के नयागांव के पास रोहिन नदी में हुई इस दुर्घटना के बाद एनडीआरएफ की एक टीम युवतियों की तलाश में जुटी हैं। हालांकि, तीन महिलाओं-लड़कियों को स्थानीय लोगों ने डूबने से बचा लिया। एनडीआरएफ टीम अपनी बोट और गोताखोरों को लेकर अन्य डूबे हुओं की तलाश कर रही थी। उधर, इस दुर्घटना की सूचना के बाद काफी संख्या में आसपास गांव के लोग एकत्र हो गए। गोरखपुर के नयागांव व रामपुर क्षेत्र में छोटी नाव चलाने वाला मनु उन लोगों को उस पार ले जा रहा था। नाव बीच मंझधार में पहुंची तो अचानक से उसका संतुलन बिगड़ गया। इससे नाव पलट गई। नाव पलटने से नदी में डूबने लगे। सभी जान बचाने के लिए चिल्लाने लगे। नाविक मनु भी तैरकर बाहर आ गया। जबकि विवाहित निशा निषाद(25), रवीना निषाद (17), बेबी निषाद (16), प्रीति निषाद(06) नदी की तेज धार में बह गईं। 
इस दुर्घटना की सूचना मिलते ही गोरखनाथ पुलिस सहित कई ने मौके पर पहुंच गए। मौके पर कुछ ही देर में एनडीआरएफ बुला ली गई। प्रशासनिक अधिकारी व निषाद पार्टी के प्रदेश एवं गोरखपुर लोकसभा प्रभारी ई. प्रवीण निषाद मौके पर निषाद परिवार के दुःखो के पहाड़ में सहयोग के लिए अपनी टीम के साथ पहुंच कर लग गए ।
मौके पर भारी संख्या में लोग भी आ गए। रोते बिलखते परिजन भी मौके पर पहुंचे। डूबने वाली युवतियों के घरवालों का रो रो कर बुरा हाल है।
गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर के बगल में बसे नए गांव और रामपुर गांव के बगल की नदी में नाव पर 8 लोग जा रहे थे, बीच में ही पलट गई। जिसमें से एक लड़की पढ़कर बाहर निकल गई और तीन महिलाएं लवर को पकड़कर किसी तरह बाहर आई उनकी हालत खराब थी उन्हें अस्पताल भेज दिया गया था अब इस समय ठीक है। एक महिला सहित तीन बच्चियां डूब कर मर गईं। गोताखोरों की मदद से तीन लास बाहर निकाली जा चुकी थी, चौथी की तलाश जारी है।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास