चुनावी लाभ के लिए भाजपा ने मेघालय में देगी मीट के लिए गाय कटने की छूट

एकलव्य मानव संदेश रिपोर्ट, 22 अक्टूबर 2017। मेघालय में चुनावी लाभ के लिए बीजेपी ने गाय के मास पर प्रतिबंध हटाने की बात कही है। उत्तरपूर्व राज्यों में गोमांस खाने का रिवाज है। वहां हिन्दू समेत सभी समुदाय के लोग गोमांस खाते हैं। अगर भाजपा वहां गोमांस पर प्रतिबन्ध की बात करती है तो उसे चुनाव में खतरा हो सकता है। इसलिए चुनावी फायदे को देखते हुए भाजपा वहां अपना तथाकथित गाय-प्रेम भूल गई है।
एक तरफ जहां सत्ता के लिए उत्तर भारत के राज्यों में गो हत्या के नाम पर हिन्दू मुसलमान के बीच खाई खोदकर राजनीति करती है बीजेपी और सैकड़ों लोगों की हत्या अब तक गो रक्षकों द्वारा की जा चुकी हैं, वहीं उत्तर पूरब के राज्यों में गो हत्या अगर सत्ता तक पहुंचा सकती है तो इसके लिए भी बीजेपी तैयार है। ये है बीजेपी का दोहरा चरित्र।