उम्मीदवारों का भाग्य मतपेटियों में हुआ कैद, 1 दिसम्बर 2017 को होगा भाग्य का फैसला

जौनपुर, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो चीफ प्रदीप कुमार निषाद कि रिपोर्ट 30-11-17। उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनाव के अन्तिम और तीसरे चरण का चुनाव 29 नवम्बर को हुआ सम्पन्न। उम्मीदवारों का भाग्य मतपेटियों में कैद हो गया। अब 1 दिसम्बर 2017 को होगा भाग्य का फैसला। झिटपुट घटनाओं के बाद मतदान शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हुआ।
बदलापुर नगर पालिका परिषद चुनाव में अनावश्यक बैठे लोगों पर बरसी लाठियां, मची अफरातफरी, चुनाव में गड़बड़ी न होने के लिहाज से प्रशासन रहा चुस्त।
जौनपुर के जोगियापुर तथा नखास वाले वार्ड पर सूची में नाम गायब रहने पर मतदाता व अधिकारियो में तू-तू मैं-मैं हुई। जबरन मतदान की कोशिश पर पुलिस ने खदेड़ने हेतु लाठी की लगाई फटकार।
निषाद पार्टी के प्रत्यासी पति सलीम खान ने साथियों संग किया। मतदान में पारसनाथ यादव पत्नी पुत्र का नाम कट जाने पर बिफर गये जबकी के पी सांसद ने किया मतदान। केराकत में आधा दर्जन लोगों को फर्जी वोटिंग की कोशिश में हिरासत में लिया गया। फटकार लगाई देर शाम रिहा किया गया। मतदाताओ को रास्ते में खड़े प्रत्यासी व समर्थक निशान की पहचान कराते नजर आये।
मुंगरा बादशाहपुर में युवतियों स्कूटर पर बैठाकर बृद्ध वोटर को बूथ पर पहुंचा रही थी। शाहगंज में तो पुलिस बूथ के समीप खड़ी बाइक को सूजा चोककर पंचर कर रही थी। मतदान को लेकर पुरूषों की अपेक्षा महिलाओं व युवाओं में उत्साह अधिक दिख रहा था
अब वोटरों को आगामी मत गणना परिणाम की बेसब्री से इंतजार है।