जिला प्रशासन की अनदेखी से प्रदूषण और रोड एक्सीडेंट बढ़ रहे हैं अनपरा सोनभद्र में

अनपरा, सोनभद्र (उ प्र), एकलव्य मानव संदेश ब्यूरोचीफ राम विलास निषाद की रिपोर्ट, 22 नवंबर 2017। उत्तर प्रदेश के जिला सोनभद्र में जिला प्रशासन की अनदेखी के कारण अनपरा से शक्तिनगर 20 किमी की दूरी पर आए दिन हो रहा है रोड एक्सीडेंट। सड़क दुर्घटनाओ का प्रमुख कारण कोयला परिवहन में लगे बड़े-बड़े ट्रेलर जब सड़क पर चलते हैं, तो उनकी स्पीड 60 किमी प्रति घन्टा होती है। अत्यधिक रफ्तार होने पर गाड़ी को अचानक ब्रेक लगाने पर गाड़ी का बैलेंस खो जाता है, जिससे सड़क दुर्घटना हो जती है। सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी प्रवर्तन, सोनभद्र की ट्रांसपोर्टर से मिलीभगत होने के कारण ट्रांसपोर्टर और गाड़ियों के खिलाफ कार्यवाही नही होती है। रात्रि में 8 से 2 बजे तक शराब के नशे में ड्राइवर के अलावा खलासियों के द्वारा गाड़ियों का संचालन किया जाता है। भार क्षमता से अधिक कोयला ट्रेलर में लोड कर सड़क पर ट्रांसपोर्टिंग की जाती है। पुलिस को भी चाहिए कि ऐसी गाड़ियों पर समय-समय पर कार्यवाही करे, मगर नही होती है। क्षेत्रीय अधिकारी उत्तर प्रदेश  प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सोनभद्र की गैर जिम्मेदारी और लापरवाही के कारण ट्रेलर जब सड़क पर चलता है तो सायलेंसर से निकलने वाले धुएं से प्रदूषण फैलता है। इतना ही नही रोड पर कोयला धूल भी उड़ता है, जिससे दिन में अंधेरा हो जाता है। ट्रांसपोर्टिंग के समय में कोयला सड़क पर गिरता है, वही कोयला का टूकड़ा कोयला धूल में तब्दील हो जाता है फिर वही कोयला धूल के रूप में गाड़ियों के आवागमन से उड़ता है, जिससे सड़क पर राहगीरों का पैदल, सायकिल, मोटर सायकिल से चलना दुर्भर हो गया है। जिला प्रशासन सोनभद्र की लापरवाही के कारण यैसा हो रहा है