स्वस्थ सेवाओं पर आवारा जानवरों का कब्ज़ा, 25 साल से आज तक नहीं पहुंचे

बाह,आगरा,एकलव्य मानव सन्देश रिपोर्टर संदीप कुमार वर्मा की रिपोर्ट, 8 दिसम्बर 2017। आगरा की बाह के गांव भदरौली में उप स्वास्थ्य केन्द्र भदरौली पच्चीस साल से संचालित है, मगर आज तक कोई कर्मचारी उप केन्द्र पर नहीं आया है और यह आज भी आवारा पशुओं से घिरा हुआ रहता है। इतनी गंदगी से जूझ रहा है कि बस्ती के लोगों का जीना भी मुश्किल हो गया है। संक्रमित रोगों के फैलने की आशंका हमेशा बानी रहती है। गांव वासियों को काफी दिक्कतें आती हैं और अपना उपचार कराने के लिए आगरा या बाह जाना पड़ता है। शाशन प्रसासन के अधिकारियों ने भी उप केन्द्र भदरौली पर ध्यान नहीं दिया है। जबकि कागजों में चल रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लाखों रुपये खर्च करने के पश्चात भी गांवों के लोगों को कोई उपचार नहीं मिल सका है। गांव के निवासीगण चाहते हैं कि भदरौली में उप स्वास्थ्य केन्द्र संचालित होना चाहिए। जिससे गांव के लोगों को दूर दराज भटकने की जरूरत न पड़े। इस गांव में  चार हजार से अधिक लोग निवास करते।