45 वर्षीय गोताखोर की डूबकर दर्दनाक मौत

सिद्धार्थनगर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर प्रदीप निषाद की रिपोर्ट, 9 दिसम्बर 2017। सिद्धार्थनगर में 45 वर्षीय गोताखोर की डूबकर दर्दनाक मौत हो गयी। प्राप्त जानकारी के अनुसार जोगिया कोतवाली अंतर्गत ग्राम गुन्हा निवासी सीताराम सहानी (45 वर्षीय) पुत्र भरत साहनी, जो सिद्धार्थ नगर का होनहार गोताखोर था।  जिला पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थनगर द्वारा दो बार सीताराम सहानी को सम्मानित कर पुरस्कृत भी किया गया था। वह अपने परिवार का भरण पोषण मछली बेचकर करता था। कल दिनांक 8 दिसंबर को बूढ़ी रास्ते में लगभग 12:00 बजे नहाने के लिए गया हुआ था। नहाते समय उसका पैर फिसल गया और डूबने लगा इसको देखकर आसपास के लोग देखकर दंग रह गए कि डूबने से दूसरे को बचाने वाला गोताखोर डूब रहा है। जैसे-जैसे गोताखोर पानी में डूबता गया, वहाँ उपस्थित लोगों द्वारा फोन नंबर पर रवि को सूचित किया गया। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर गोताखोर द्वारा लास को पानी में तलास कराया लेकिन सफलता नहीं मिली। बड़ी मशक्कत के  आज दिन में लगभग 12:00 बजे  लास को पानी में से निकाला गया। पुलिस ने पंचनामा भरकर उसे अंत परीक्षा हेतु संयुक्त चिकित्सालय सिद्धार्थनगर भेज दिया है। फिलहाल जो भी हो सभी के मन में सिर्फ एक ही सवाल है, सब को डूबने से बचाने वाला गोताखोर अपने कोई नहीं बचा पाया।