नाली और पंचायती भवन हुए खस्ता हाल

सिद्धार्थनगर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर प्रदीप निषाद की रिपोर्ट, 29 दिसम्बर 2016। सिद्धार्थनगर के मिश्रोलिया चेतिया क्षेत्र के बड़हरघाट में नाली एकदम ध्वस्त हो चुकी है। ग्रामीणों के बताने के अनुसार पूर्व प्रधान ने गांव में पानी निकासी की समस्या को लेकर नाली का निर्माण कराया था लेकिन कुछ ही महीनों बाद नाली टूट गई, जिससे नाली का कोई सरोकार नहीं रहा है। बड़हरघाट में सड़क से पश्चिम बनी चौड़ी नाली एकदम बेकार हो गई है, जिससे जगह-जगह नाली में पानी जमा रहता है और घास फूस की वजह से नाली का कोई पता ही नहीं जैसे नाली गायब ही हो गई है। ग्रामीणों ने नाली को दुरुस्त कराने की मांग की है।
इसी गांव में ही पंचायती राज विभाग द्वारा वर्षों पहले भवन का निर्माण कराया गया था। जहां एमडीएम और आंगनवाडी कार्यकत्री द्वारा खाद्य सामग्री के रखरखाव के लिए भंडार कक्ष बनाया गया था। लेकिन वहां दरवाजा ना होने के कारण जानवरों का बसेरा बना हुआ है और तमाम गंदगी फैली हुई है। पुराना होने के नाते काफी जर्जर भी है। गांव के संतोष, उमेश, रामदीन, कृष्णा निषाद, मुकेश निषाद, गौतम, धर्मेंद्र, राजेश, सुंदर सहित गांव के सभी लोगों ने नाली और पंचायती राज भवन को दुरुस्त कराने की मांग प्रशासन से की है।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास