सरदार भगत सिंह जी का आम जन के लिए संदेश

इटावा, एकलव्य मानव संदेश के लिये पंकज कुमार निषाद का संदेश। भारत के मेहनतकश लोग, किसान मजदूर, व्यापारी को सरकार या साहूकार ही नही ठगते हे, बल्कि ये वर्ग अपनी अज्ञानता में पोंगे पंडितों और उस काल्पनिक ईश्वर, अल्लाह  के नाम पर भी लगातार बर्बाद हो रहा है।
मैंने देखा है कई मज़दूर जिनके घर में सब्जी का बगार लगाने के लिए खाने का तेल नहीं होता, वो रोज तेल के दिए जलाते हैं।
जिनके पास अपने बच्चो के लिए किताबें खरीदने के पैसे नही होते, वो मन्दिर निर्माण के लिए हज़ार रुपये की रसीद कटाते हैं।
आखिर क्यों?
अरे भाइयो आपकी पीढ़ियां उस फ़र्ज़ी, अस्तित्वहीन भगवान, अल्लाह की गुलामी करते करते गुज़र गयीं, क्या दिया उसने आपके परिवार को ?
आप धर्म की आड़ में आये दिन पंडितों, मौलवियों के हाथों लूटे जाते हो।
आपको ये सब त्यागकर प्रेक्टिकल होना पड़ेगा, विज्ञान की तरफ लौटना होगा, अपने हालात को नसीब और भगवान की मर्ज़ी मानकर संतोष करने की बजाय अपने अधिकारों के लिए संघर्ष करना होगा।
क्योंकि भगत ने कहा था कि आपको बदलाव लाने के लिए हर रूढ़िवादी परम्परा, मान्यता को चुनौती देनी पड़ेगी।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास