काशीराम आवासों की हालत है खराब

औरैया, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर महेंद्र वर्मा की रिपोर्ट, 28 दिसम्बर 2017। मायावती शासन काल में बने कांशीराम कॉलोनी आवास की हालत  जजर्र आवास की तरह । सहर स्थित सैनिक कॉलोनी में बने लगभग 272 आवासों में से आधे से ज्यादा आवास बन्द पड़े हैं और जो लोग जिन आवासों में जीवन यापन कर रहे है उन आवासों की स्थिति नाजुक है। जीनों में लगी रैलिंग गायब है। पानी की टंकिया गायब, गंदगी से लोग परेशान और आये दिन होते हैं बीमार। आवासों में रहने वाले राजा, चरनसिंह, विजय सिंह, तारादेवी, हेमलता, अर्जुन, गीता देवी, रूपरानी का कहना है कि कई बार उन्होंने अपनी समस्या के लिए प्रशासन को ऍप्लिकेशन दी, लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं की गई। ज्ञात करा दें कि मायावती शासन काल मे कांशीराम सहरी आवास योजना के नाम से आवासों का निर्माण कराया गया था, लेकिन फिर सरकार जाने बाद उनकी तरफ किसी भी सरकार ने ध्यान नही दिया। आधे से ज्यादा आवास बन्द हैं और जो लोग इन आवासों में रह रहे हैं, उनमें भी कुछ किरायदार हैं। क्योंकि योजना गरीबो के नाम की थी, लेकिन रहने के लिए कॉलोनी दी गयी उन्हें जिन्होंने दिए 10000 से लेकर 30000 रुपये दिए।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास