आरएसएस और बीजेपी एक धोखा है, अब भी मान जाओ आपके पास मौका है

मिर्ज़ापुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर विशाल कुमार निषाद की रिपोर्ट, 22 दिसम्बर 2017। आरएसएस और बीजेपी एक धोखा है। अब भी मान जाओ आपके पास मौका है।
आप लोग खुद ही देख लो !
अब आप बताओ आप की राय क्या है ?
क्या ये सच है ?
हाथ जोड़ रहा हूँ, प्लीज़ पढ़ लीजिए। और हो सके तो औरों को भी बताइयेगा-
प्रवीण तोगड़िया के बच्चे हैं, कभी उनको किसी उपद्रव में शामिल देखा?
सुब्रमण्यम स्वामी के बच्चों को ?
कभी सुना कि आडवाणी के घर का कोई बच्चा भगवा झंडा अदालत में लहराता पकड़ा गया?
नरेंद्र मोदी के घर के कितने लोग सड़क पर हिंदूवादी भीड़ में निकलते हैं ?
विनय कटियार का बेटा क्या किसी उन्मादी भीड़ में था ?
राजनाथ सिंह के बेटे ने बजरंग दल क्यों नहीं जॉइन किया ?
मुरली मनोहर जोशी की दोनों बेटियां क्या करती हैं ?अमित शाह के बेटे को आप सब जानते ही हैं।
पागल हो जाने से पहले सोचिये कि राजस्थान की अदालत परिसर पर भगवा झंडा फहराने से लेकर, बाबरी के गुम्बद तक चढ़े और मर रहे, गिरफ्तार हो रहे, लाठी-गोली खा रहे नौजवानों में इनके परिवार से कौन था ?
और आप अपने बच्चों को इनके और इनकी विचारधारा के हाथों इस्तेमाल होने दे रहे हैं ?
थोड़ा दिमाग लगाइए, ये सिर्फ यूज़ एंड थ्रो की राजनीति है साहब...
अपने बच्चों को इस ज़हर से बचाइये..