कासगंज में जो भी घटनाएं हुईं वे उत्तर प्रदेश के लिए कलंक हैं-राज्यपाल

कासगंज, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर राज कुमार कश्यय की रिपोर्ट, 29 जनवरी 2018। कासगंज में हिंसा और तनाव काबू न करने के आरोप में एसपी सुनील सिंह को हटा दिया गया है। अब उन्हें मेरठ भेज दिया गया है। उनकी जगह पीयूष श्रीवास्तव कासगंज के नए एसपी होंगे। डीजीपी ने रविवार को सिंह के मामले में शासन को रिपोर्ट दी थी।
राज्यपाल राम नाईक ने कासंगज में दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प को शर्मनाक और कलंक करार दिया है। राम नाईक ने गणतंत्र दिवस पर कासगंज में दो समुदायों के बीच हुई हिंसक झड़प के बारे में कहा कि सरकार को इस मामले में और गहराई से जांच करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि यह हिंसा शर्म की बात है। मैं आशा करता हूं कि ऐसे कदम उठाए जाएंगे कि उत्तर प्रदेश में फिर कभी ऐसे दंगे नहीं हों। राज्यपाल ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘कासगंज में जो भी हुआ, वह किसी को शोभा नहीं देता है। किसने शुरुआत की और किसने बाद में जवाब दिया, यह बात तो जांच में बाहर आएगी, लेकिन निश्चित तौर पर कासगंज में जो भी घटनाएं हुईं वे उत्तर प्रदेश के लिए कलंक हैं।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास