लोकतंत्र के लिए खतरा है ईवीएम-डॉ संजय कुमार निषाद

गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्ट, 9 जनवरी 2018। निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद पार्टी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय कुमार निषाद ने एकलव्य मानव संदेश के माध्यम से कहा है कि भारत में ईवीएम मशीन अब लोकतंत्र के लिए खतरा है। ईवीएम की विश्वसनीयता पर 2017 के उत्तर प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव के बाद से उठ रहे सवालों को और मजबूती मिली है पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त टी एस कृष्णमूर्ति के बयान से, जिसमें उन्होंने कहा है कि बीजेपी ने उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गुजरात और हिमाचल के चुनाव ईवीएम हैकिंग से जीते हैं। पूर्व चुनाव आयुक्त ने इवीएम की वजाय चुनाव वैलेट पेपर से कराए जाने की हिमायत की है और ईसके लिए सभी राजनीतिक दलों से लगातार आंदोलन करने की अपील भी की है।
पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त के बयान से बीजेपी की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं। क्योंकि अभी हाल ही के नगर निकाय चुनाव में जहाँ जहाँ वैलेट पेपर से चुनाव हुए हैं उसमें बीजेपी को आधी भी जगह सफलता नहीं मिली है और जहाँ महानगरों में ईवीएम मशीन से चुनाव हुए हैं बीजेपी 2 सीट छोड़कर सभी जगहों पर कामयाब रही।
निषाद पार्टी सहित उत्तर प्रदेश के कई राजनीतिक दलों की सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ पिछले दिनों लखनऊ में ईवीएम को बैन कर वैलेट पेपर से चुनाव कराए जाने के विषय में एक बैठक भी आयोजित हो चुकी है। और आगामी चुनावों में बीजेपी की इस इवीएम घोटाले को रोकने के लिए सभी गैर भाजपाई दलों के संयुक्त गठबंधन के साथ चुनाव लड़ने पर भी विचार विमर्श किया गया।
निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजय कुमार निषाद ने कहा है कि निषाद पार्टी विपक्षी दलों के एक साथ गठबंधन को प्रथमिकता देगी और इसकी सुरुआत गोरखपुर और फूलपुर लोक सभा उपचुनावों से की जा सकती है।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास