जंगली सूअर ने मचाया आतंक, किया लोगों को घायल

सिद्धार्थनगर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर प्रदीप निषाद की रिपोर्ट, 6 जनवरी 2018। शिद्धार्थनागर के चेतिया क्षेत्र के बिहरा गांव में जंगली सूअर का आतंक बढ़ गया है। बुधवार के दिन बिहारा निवासी हरीशचंद्र अपने खेतों में गेहूं चर रहे अज्ञात मवेशियों को हांकने खेत पर गए, जहां अचानक जंगली सूअर ने उन पर हमला कर दिया और वह बुरी तरह घायल हो गए जिससे उनके जांघों और पैरों में लगभग 16 टांके लगे हैं। डॉक्टर ने बताया कि लगभग डेढ़ महीने यह बेड रेस्ट करेंगे। गांव के दक्षिण चवर के बगीचे में झाली है। जहां यह छुपकर रहता है और मौका देख कर आदमियों को दौड़ा लेता है। गांव में जंगली सूअर के नाते दहशत बनी हुई है। बाहर सिवान में जाने के लिए कम से कम गांव के 2 लोग लाठी-डंडे कुल्हाड़ी लेकर निकलते हैं, कि कहीं अचानक जंगली सूअर निकलकर हमला न कर दे। कुछ लोगों के बताने के अनुसार इसी जंगली सुअर का आतंक 15 दिन पहले मझरिया में था। वहां पर भी कपिल देव नामक व्यक्ति को बुरी तरह घायल कर दिया था  उनके हाथों में कई टांके लगे थे, जिनका इलाज अभी चल रहा है। ग्रामीणों की तमाम कोशिशों के बावजूद उस जंगली सूअर को नहीं मारी जा सकी, क्योंकि जब लोग झुंड बनाकर मारने के लिए निकलते हैं तो उसका पीछा नहीं कर पाते।