सत्य को परिणाम ही साबित करते है कि सत्य है

अलीगढ़, एकलव्य मानव संदेश सोशल मीडिया रिपोर्ट, 19 फरवरी 2018। गोरखपुर मंडल में निषाद बिरादरी के मजबूत वोट बैंक को देखते हुए सभी राजनीतिक दलों में दिग्गज चेहरे नजर आते हैं। इसका एक उदहारण, जब कौड़ीराम विधान सभा क्षेत्र में गौरी देवी विधायक थीं और अपने पति रवींद्र सिंह के यश और अपनी उपस्थिति के बल पर अपराजेय मानी जाती थी।
उन्हें निषाद बिरादरी के श्री लालचंद निषाद जी ने पराजित किया और गोरखपुर के पहले निषाद विधायक बनने का गौरव हासिल किया। निषाद राजनीति आज और सबल हुआ है।
ई.प्रवीण निषाद जी आज उसी इतिहाश को दुबारा चरितार्थ के करीब हैं। आज पुरे देश में अगड़ा और पिछड़ा के बर्चश्व की बात चरम पर है।
यह लडाई यस कृति और निषाद वंशीय के सम्मान से जोड़ कर आज निषाद समाज देख रहा।
और जब सामाजिक सम्मान की बात हो तो निषाद समाज कभी पिछे नही हटा हैं। 
सत्य मेव जयते
(महेन्द्र निषाद दिल्ली की फेसबुक वाल से साभार लिया गया)

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास