पीस पार्टी प्रदेश अध्यक्ष का एआईएमएमआईएम पर हमला-जिनका वजूद फेसबुक पर वो सवाल न करें

लखनऊ, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्ट, 22 फरवरी 2018।समाजवादी पार्टी से हुए गठबंधन के बाद पीस पार्टी राजनीतिक दलों के निशाने पर है। सबसे ज़्यादा एआईएमएमआईएम के कार्यकर्ता सवाल कर रहे हैं। सभी का जवाब देने के लिए पीस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष सामने आए हैं। एआईएमएमआईएम समेत सभी पर निशाना साधते हुए पीस पार्टी प्रदेश अध्यक्ष ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट पर विरोधियों पर ज़ोरदार तरीके से हमला बोला है।
पीस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ अब्दुल मन्नान ने लिखा है कि “पीस पार्टी एक धर्मनिरपेक्ष पार्टी है जिसका वजूद ज़मीन पर है सिर्फ फेसबुक पर नहीं। हम ये जानते हैं कि देश और समाज हमसे क्या चाहता है। हमने वही काम किया जो क़ौम के लोग हमें मशवरा देते रहे हैं। कल एक खास पार्टी के लोग जिनका वजूद सिर्फ फेस बुक पर है। इन लोगो ने अफवाह उड़ाया कि पीस पार्टी का समाजवादी पार्टी में विलय हो गया। अब हमसे सवाल पूछते हैं, कि इसमें पीस पार्टी को क्या मिला। डॉ अब्दुल मन्नान ने लिखा है कि “आप लोगो को मेरा मशवरा है, कि तेलंगाना हैदराबाद को देखो। क्यों पूरी कौम को और खुद को उत्तर प्रदेश और बिहार में ज़लील करवाने के बाद पूरे मुल्क में ज़लील करवाना चाहते हो ? जो लोग हमसे ये सवाल पूछ रहे हैं, उनको मैं बताना चाहता हूँ कि इस गठबंधन का फल इंशाल्लाह 2019 के लोकसभा चुनाव में और 2022 के विधान सभा चुनाव में मिलेगा। उस वक़्त हमारे हिस्से में जो सीटे आएंगी उस पर हम चुनाव लड़ेंगे। सपा और निषाद पार्टी हमें समर्थन करेगी और हम उनको। हम अपने लोगो को समझना चाहते हैं, कि कुछ हिकमत-ए-अमली ऐसी होती है जिसका खुलासा अभी फेसबुक पर नहीं किया जा सकता। आप लोग बिल्कुल मुत्मइन रहें।
हम कौन से दरख्त हैं ये फल बताएगा।
दानिशवरों को रास्ता पागल बताएगा ।।