दवंगो ने कश्यप मोहल्ले में बरपाया कहर, नहीं छोड़ा 3 दिन की बच्ची को भी

अलीगढ़, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो रिपोर्ट, 5 मार्च 2018। अलीगढ़ जनपद के थाना लोधा के गांव नंदपुर पला में शनिवार रात को शराब के नशे में कश्यप और ठाकुरों मेंं हुए मामूली विवाद के बाद अगले दिन दबंग ठाकुरों ने अपनी दवंगई दिखाते हुए गरीब कश्यय समाज के लोगो पर जमकर कहर बरपाया। रविवार को दबंगों ने भाला-बल्लम व लोहे की रॉड से लैस होकर दूसरे पक्ष के घरों में घुसकर जमकर मारपीट की।  सुबह करीब सात बजे दूसरे पक्ष के घरों में घुसकर करीब एक दर्जन लोगों को घायल कर दिया। बचने के लिए कुछ लोगों ने पड़ोस के घर में छिपकर जान बचानी चाही पर हमलावर वहां भी पहुंच गए। इस बीच पड़ोसी परिवार को भी मारपीट कर घायल कर दिया। 
पीड़ित परिवारों का कहना है कि हमलावरों ने तीन दिन की बच्ची को मारने की कोशिश की और प्रसूता को बल्लम से घायल कर दिया। घायलों का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। मामले में दोनों पक्षों की ओर से रिपोर्ट दर्ज कराई गई है।
ग्रामीणों के अनुसार गांव नंदपुर पला में रहने वाले प्रकाश कश्यप के घर गोंडा क्षेत्र में रहने वाला उसका भांजा योगेंद्र आया हुआ था। शनिवार रात किसी मामले के लेकर शराब के नशे में धुत रिंकू सिंह पुत्र चोब सिंह, उसके भाई मनवीर व राजेंद्र पुत्र निहाल सिंह से विवाद हो गया था। बाद में गांव के लोगों ने मामले में सुलह करा दी थी। अगले दिन सुबह ठाकुर बिरादरी के रिंकू सिंह ने अपने करीब एक दर्जन से ज्यादा साथियों के साथ भाला-बल्लम व लोहे के रोड से लैस होकर प्रकाश कश्यप और कश्यपों के घरों पर धावा बोल दिया। करीब एक दर्जन निहत्थे लोगों पर भाला-बल्लम व लोहे के रोड से हमला किया गया, जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए। कुछ लोग जान बचाकर पड़ोस में रहने वाले अशोक शर्मा के घर में छिप गए तो हमलावर वहां भी पहुंच गए। विरोध करने पर उन्होंने अशोक के बेटे-बेटी व पत्नी को भी पीट-पीटकर घायल कर दिया। कश्यप परिवार के लोगों का कहना है कि हमलावर प्रीति की तीन दिन की एक बच्ची की गर्दन पर पैर रखकर उसको मौत घाट उतारना चाहते थे। जब नवजात की मां ने हमलावरों के पैर पकड़े, तब जाकर उसे छोड़ा। हमलावरों ने प्रसूता को भी भालों सेे घायल कर दिया। 
साथ ही करीब दस घरों के ताले तोड़कर आग लगाने की भी कोशिश की। बाद में गंभीर रूप से घायल मुन्नी देवी पत्नी मनोहरलाल, मनोहर लाल पुत्र देवीराम, योगेंद्र पुत्र लालराम, सुमन देवी पत्नी राकेश, सुमन पुत्री धर्मवीर, प्रकाश पुत्र अशोक, सावित्री पत्नी अशोक, प्रीती पत्नी प्रकाश, कमलेश पत्नी छोटेलाल, पुष्पादेवी पत्नी डोरीलाल, मनोज पुत्र पीतंबर, राकेश पुत्र निरंजनलाल आदि को उपचार के लिए मलखानसिंह जिला अस्पताल लाया गया है। इस संबंध में एसओ लोधा ने बताया कि दोनों पक्षों की ओर से रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। ठाकुर पक्ष के तीन लोगों को आज पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास