अनुशासन हीनता के कारण निषाद पार्टी के विधायक विजय मिश्रा को पार्टी से किया गया बाहर

गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर वेदवन्धु निषाद की रिपोर्ट, 24 मार्च 2018। आज दिनांक 24 मार्च 2018 समय 1:00 बजे स्थान प्रेस क्लब गोरखपुर में प्रेस वार्ता के दौरान निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉक्टर संजय कुमार निषाद जी ने कहा कि विधानसभा 2017 के चुनाव में विजय मिश्र को जब राजनीतिक दलों ने टिकट नहीं दिया था, तब निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल ने अपनी पार्टी का टिकट देकर सभी कर्मठ कार्यकर्ताओं पदाधिकारियों एक कड़ी मेहनत एवं इमानदारी से ज्ञानपुर के मतदाताओं ने चुनाव जीता कर इन्हें विधानसभा में भेजा था। उन्होंने मतदाताओं एवं पार्टी के साथ धोखा दिया है। समय आने पर मतदाता एवं पार्टी इन्हें माकूल जवाब देंगे।
राज्यसभा चुनाव में पार्टी ने दिशा-निर्देश जारी किया था, उसका पालन विधायक द्वारा ना करने व अनुशासनहीनता के कारण पार्टी से इन्हें आज निलंबित किया जाता है। पार्टी के संविधान के अनुसार पार्टी की सदस्यता समाप्त की जाती हैं। साथ ही विधानसभा अध्यक्ष को विधानसभा से सदस्यता समाप्त करने के लिए हेतु पत्र भेजा जाएगा। निषाद पार्टी गरीबों, शोषितों, वंचितों एवं निर्बलों की लड़ाई के लिए बनी है। हमेशा इसी उद्देश्य से कार्य करती रहेगी। भाजपा पूंजीवाद और सामंतवादी विचारधारा के लोगों की पार्टी है। उसके साथ विधायक का हाथ मिलाना पार्टी के सिद्धांत के विरुद्ध है। इसका जवाब जनता समय आने पर देगी। पार्टी के अंदर कार्यकर्ताओं को तोड़-फोड़ और पार्टी के पदाधिकारियों के धमकाने का भी आरोप बाहुबली विधायक पर है। प्रदेश व देश में पार्टी के किसी कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी और सदस्य एवं निषाद समाज के ऊपर यदि कोई हमला घटना दुर्घटना होता है, तो उसमें अभीयुक्त के साथ सहअभीयुक्त विधायक जी होंगे। इसकी जानकारी पार्टी ने गृह मंत्रालय, डीजीपी, राज्यपाल, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति को ज्ञापन के माध्यम से सूचना दी जायेगी है। संविधान कहता है जाति खत्म हो जाना चाहिए। निषाद पार्टी भी चाहती है। संविधान में मिले हुए सभी जातियों को प्रदत्त अधिकार उन्हें अगर दे दिए जाएं, उनकी भागीदारी सुनिश्चित कर दी जाए, जातियों को विकास की मुख्यधारा में जुड़ जायेंगे तो अपने आप भेदभाव खत्म हो जाएगा। लेकिन भारतीय जनता पार्टी जातियों को बढ़ावा देकर उप जातियों में बांट रही है, निषाद पार्टी इसके खिलाफ है। पार्टी चाहती है कि संविधान में मिले हुए अधिकारो को संख्या के आधार पर दे दिए जाएं। सभी योजनाएं एवं नागरिक को आधार कार्ड से लिंक किया जा रहा है, निषाद पार्टी चाहती हैं की जाति को भी आधार कार्ड से लिंक कर दिया जाए। चुनाव मतदाता को भी आधार कार्ड से लिंक कर दिए जाए। 
निषाद पार्टी हुए उपचुनाव लोक सभा में सभी मतदाताओं का आभार प्रकट करती हैं और पत्रकार बंधुओं का विशेष योगदान देने का धन्यवाद ज्ञापित करती है। सभी पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं, मतदाताओं का प्यार और स्नेह देने के सहयोग का आभारी रहेगी।