जमुना प्रसाद निषाद की तरह हत्या कराई जा सकती सांसद प्रवीण निषाद की-डॉ. संजय कुमार निषाद

अलीगढ़, एकलव्य मानव संदेश के लिए फेस बुक से साभार लिया गया, 21 अप्रैल 2018। विगत गोरखपुर लोकसभा उपचुनाव में सत्ताधारी दल बीजेपी को हराकर चुनाव जीतने वाले समाजवादी पार्टी प्रत्याशी ई.प्रवीण निषाद और उनके परिवार की सुरक्षा को लेकर सरकार गंभीर नहीं है। सांसद के पिता व निषाद पार्टी के अध्यक्ष डाॅ.संजय निषाद ने सरकार पर सुरक्षा की अनदेखी का आरोप लगाते हुए कहा है कि पूर्व मंत्री जमुना निषाद की तरह सांसद प्रवीण की भी हत्या कराई जा सकती है। 
डाॅ.संजय निषाद ने सवाल उठाया कि आखिर सांसद को सरकार क्यों सुरक्षा मुहैया नहीं करा रही है। दलित-पिछड़ा होने की वजह से उनके साथ सौतेला व्यवहार सरकार अपना रही है।
उन्होंने बताया कि सांसद की सुरक्षा बढ़ाए जाने के लिए कई बार लिखित रूप से दिया जा चुका है। सांसद को क्षेत्र में भ्रमण करना होता है लेकिन लिखित रूप से दिए जाने के बावजूद उनको एस्कोर्ट की सुरक्षा नहीं उपलब्ध कराई जा रही है। जबकि उनके जानमाल की आशंका हमेशा बनी हुई है।
उन्होंने कहा कि पूर्व में जमुना निषाद इस क्षेत्र के शोषितों-दलितों और दबे-कुचलों की आवाज हुआ करते थे, लेकिन विरोधी उनकी बढ़ती ताकत को पचा नहीं पाए और उनकी हत्या करा दी गई। सपा सांसद प्रवीण निषाद ने योगी आदित्यनाथ की तीन दशक से कब्जे वाली सीट पर जीत हासिल की है। इस लोकप्रियता से घबराकर असमाजिक तत्वों से सांसद या उनकी हत्या कराई जा सकती है। उन्होंने कहा कि उनके परिवार की सुरक्षा को भी खतरा है। लेकिन सत्ता में बैठे लोगों के इशारे पर अधिकारी सुन नहीं रहे हैं। 
उन्होंने कहा कि जनता का काम नहीं हो पा रहा है। योगी आदित्यनाथ की सीट पर कब्जा बीजेपी को पच नहीं रहा है। 
डाॅ.संजय निषाद ने कहा कि इस जीत से विरोधी दल हताश हैं। वह नहीं चाहते कि कोई दलित या पिछड़ा बड़े पद पर जाए। विरोधी लगातार कोशिश कर रहे हैं कि सांसद की छवि धूमिल हो। इसकेलिए हर हथकंडा अपना रहे हैं।