अपने हक़ के लिए आंदोलन करने वालों की लड़ाई सड़क से संसद तक लड़ने को तैयार हूँ-ईं. प्रवीण निषाद

9
गोरखपुर, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्ट, 3 अप्रैल 2018। सुप्रीम कोर्ट द्वारा एससी एसटी एक्ट को लेकर हुए कल आन्दोलन के मुद्दे पर आज एक प्रेस कांफ्रेस कर गोरखपुर सदर के सांसद प्रवीण निषाद ने, प्रशासन और सरकार को आड़े हाथो लेते हुए कहा, कि आन्दोलन अपने हक के लिए होना चाहिए, मै इसका समर्थन करता हूँ। आंदोलनकारियों के ऊपर जो भी सरकार के द्वारा अत्याचार हुआ है, मैं इसकी घोर निंदा करता हूँ। क्योकि वे हमारा सहयोगी दल हैं और उनकी वजह से हम आज सदन में पहुचे हैं। प्रशासन के द्वारा आंदोलनकारियों पर फर्जी मुकदमे करा कर उन्हें सरकार द्वारा फ़र्ज़ी फसाया गया है, वो बंद किया जय औरसरकार उन्हें न्याय दिलाने का काम करे। सभी आंदोलनकारियों को बाइज्जत बरी करना चाहिए, क्योकि मै जनता का प्रतिनिधि हूँ, इसलिए उनकी आवाज को संसद तक उठाने का काम करूंगा और जरूरत पड़ी तो उनके साथ सडक से संसद तक लड़ाई लडूंगा। क्योंकि गोरखपुर जनपद से मुख्यमंत्री होने के नाते आज कोई भी प्रशासन का अधिकारी छोटा हो या बड़ा हो मेरी कोई बात मानने को तैयार नहीं हैं।
         निर्बल इन्डियन शोषित हमारा आम दल के राष्टीय अध्यक्ष डॉ. संजय कुमार निषाद ने आज एक प्रेस कांफ्रेस कर कहा, कि सुप्रीम कोर्ट दखल अन्दाजी कर रही है, क्योकि, ये एससी/एसटी एक्ट संसद में पास हुआ था, और उसमें सुप्रीम कोर्ट कौन होती है, दखल अंदाजी करने वाली। क्या अब अधिकारी और कर्मचारी तय करेंगे, कि किस पर कैसे मुकदमा दर्ज करना है, कि पीड़ित की बात सुन कर। मैं अपनी पार्टी के तरफ से, जिस तरह से आंदोलनकारियों पर फर्जी मुकदमे दर्ज किये गए हैं और उन पर लाठिया बरसाई गई हैं, उसका वीडियो फुटेज है, और ये क्रूरता मानवता के खिलाफ है। अगर आंदोलनकारियों को इन्साफ नहीं मिला तो मै इनके लिए कोर्ट में जाउंगा और वहा से इन्हें न्याय दिलाऊँगा। सरकार को इसको लेकर आगे आना चाहिए और जो भी आन्दोलन में उपद्रवियों द्वारा बबाल किया गया है, उसकी आंड में सरकार की इस तरह के बरबर कार्यवाही की मैं निंदा करता हूँ।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास