बढ़ौना निवासी दो सगे भाईयों की निकली अर्थी गांव में छाया मातम

जौनपुर, एकलव्य मानव संदेश ब्यूरो चीफ प्रदीप कुमार निषाद कि रिपोर्ट, रविवार 01 अप्रैल 2018। जौनपुर के सिकरारा थाना क्षेत्र के बढ़ौना फतेहगंज बाजार से एक साथ दो सगे भाईयों की अर्थी निकलने से पूरे गांव में मातम छा गया। परिजनों की चीख पुकार सुनकर आसपास के गांव की भीड़ जुट गई। दोनों युवको के मौत की खबर लगते ही गांव में कोहराम मच गया। शनिवार की देर शाम गोमती नदी के किनारे रामघाट पर दोनों का अंतिम संस्कार किया गया। पिता को एक साथ दोनों पुत्रों को मुखाग्नि देते देख घाट पर उपस्थित लोगों की आंखें नम हो गई। 
बढ़ौना बाजार निवासी इंद्र प्रसाद गौतम के बड़े पुत्र शिवसहाय उर्फ अच्छेलाल 38 वर्ष और दूसरे पुत्र शारदा सहाय उर्फ नन्हेलाल (35) की प्रतापगंज बाजार के समीप अज्ञात वाहन की चपेट में आने से शुक्रवार की देर रात घटना स्थल पर मौत हो गई। रोते बिलखते परिवार के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए। फतेहगंज बाजार में फर्नीचर व लकड़ी का व्यवसाय करने वाले इंद्र प्रताप के छह पुत्रों में सबसे बड़ा पुत्र मृतक शिवसहाय व दूसरे नंबर पर मृतक शारदा सहाय व्यापार के सिलसिले में बाइक से पवारा से जौनपुर की तरफ लौट रहे थे शाम को लौटते समय सिकरारा थाना क्षेत्र के प्रतापगंज के पास अज्ञात वाहन की चपेट में आने से दोनों की मौत हो गई। शिवसहाय अपने पीछे पत्नी मीना देवी व तीन बच्चे बड़ी बेटी नेहा (8), रक्षा(6) और छोटा बेटा शेष (4) को छोड़ गए है। दूसरे भाई शारदा सहाय अपने पीछे पत्नी रेनू देवी व तीन बच्चे बड़ी बेटी रिया (7), बेटा गोलू (5) और बेटी श्रेया (2) को छोड़ गए। दोनों बेटों की एक साथ मौत से परिवार के लोग सदमे में है। पिता इंद्र प्रसाद और मां लालती देवी के ऊपर दुख का पहाड़ टूट गया है। शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद शव गांव में पहुंचे तो कोहराम मच गया। उधर छोटे भाई विकास की तहरीर पर सिकरारा थाने में अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। अभी तक सरकार की तरफ से कोई भी आर्थिक मदद नही मिली है। दुखित परिजन को सात्वना व सहन शक्ति प्रदान करने पहुचें निषाद पार्टी के कार्यकर्ता डाॅ.राम चरित्तर निषाद, डॉ.संदीप कुमार निषाद, साहबलाल गौतम, जवाहरलाल गौतम  रामवृक्ष निषाद।

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास