बूथ गठन और 7 जून के आंदोलन के लिए पूरी लगन से लगे हुए हैं जौनपुर के निषाद पार्टी कार्यकर्ता

जौनपुर (Jaunpur), एकलव्य मानव संदेश (Eklava Manav Sandesh) ब्यूरो चीफ प्रदीप कुमार निषाद की रिपोर्ट 28 मई 2018। लोकसभा सदर जौनपुर में शाहगंज विधानसभा प्रभारी रमेश चंद्र निषाद और चंद्रेश निषाद युवा मोर्चा प्रदेश सचिव निषाद पार्टी द्वारा गांव गांव बूथ कमेटी गठन करते हुए तथा 7 जून 2018 को प्रदेश बंद महाआंदोलन में भारी संख्या में  पहुंचने की अपील करते हुए बताया कि हम निषादों को 12 अक्टूबर 1871 को क्रिमिनल ट्राइब्स एक्ट कानून बनाकर उजाड़ा गया है। 31अगस्त 1952को पहला चुनाव हुआ उसके बाद जन्मजात अपराधी नामक कानून से आजादी मिली। जो लोग मत का प्रयोग किये उनका मान सम्मान स्वाभिमान मिल गया। नेता नौकरी उनके घर में गई। जो लोग मतदान किये वो गर्त चले गए। क्योकि दान में दिया गया कोई भी वस्तु हो, उस पर आपका अधिकार नही रहता है। जो समाज ई वी एम में बटन स्थापित करवा लिया, सब कुछ हासिल कर लिया। ठीक उसी तर्ज पर हम लोगो को अपना सिम्बल फिक्स करवाना है। 2019 लोकसभा चुनाव में मान सम्मान स्वाभिमान शासन सत्ता अपने हाथ में लेने का वक्त आ गया है।