फतेहाबाद समाचार संजय निषाद के द्वारा

फतेहाबाद, आगरा, एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर संजय सिंह निषाद की रिपोर्ट, 10 मई 2018। आगरा में बुद्घवार शाम फतेहाबाद क्षेत्र में आयीं आंधी से क्षेत्र के लोग सहम गये तथा अपनी अपनी दुकानें बंद कर दी। हालांकि कहीं से कोई अप्रीय घटना की सूचना नहीं मिली है। बुद्घवार शाम को अलर्ट के बाद आय तेज आंधी से कस्बा फतेहाबाद में लोगों ने भय से अपनी अपनी दुकानें बंद कर दी। 5 मिनट के लिए आसमान में अंधेरा छा गया। आंधी को देखते हुए प्रशासन पूरी तरह अलर्ट रहा। एसडीएम प्रथमेश कुमार, तहसीलदार संजय कुमार आंधी के दौरान क्षेत्र में लगातार निगरानी करते देखे गये। एसडीएम फतेहाबाद ने अधिनस्थों को तूफान के दौरान उचित व्यवस्थाओं के निर्देश दिये। 

*पिछले 2 मई को आये विनाशकारी तूफान से टूटे विद्युत खंभों से तार हुए चोरी।
फतेहाबाद में निबोहरा रोड पर 2 मई को आये विनाशकारी तूफान से कई खंभे धराशायी हो गये थे। इन विद्युत खंभों से टूटे तारों को अज्ञात चोर चुरा कर ले गये। निबोहरा के अवर अभियंता पकज कुमार ने थाना फतेहाबाद में लिखित तहरीर दी है। जिसमें लिखा कि जगराजपुर से निर्गत 33 केवीए लाइन छतिग्रस्त हो गई थी। जिसके कारण उसके खंभे तथा विद्युत तार निर्जीव पडे हुए थे। जिससे ग्राम भोजपुर के आस पास का 3200 मीटर एकल तार अज्ञात चोर चुरा ले गये। तार चोरी होने से करीब 40 गांव की विद्युत आपूर्ती प्रभावित है।

*फतेहाबाद के की इलाके तरस रहे हैं बूंद बूंद पानी को
कस्बा फतेहाबाद में बाह रोड बाईपास की ओर कई इलाको में गंभीर पेयजल संकट है जिसका कारण है कि इन इलाकों में नगर पंचायत की पाइप लाइन नहीं है। भगवान देवी कन्या इंटर कालेज से लेकर साकेत नगर बायपास तिराहा बाह रोड तक पानी का कोई साधन नही है। जिससे लोगो को विकट गर्मी में बूँद बूँद पानी के लिए तरसना पड़ रहा है। लोगों को पानी भरने दूर दूर तक जाना पड़ता है। वार्ड की सभासद ने इस संदर्भ में कई बार नगर पंचायत में लिखित में सूचित किया है। लेकिन नगर पंचायत की तरफ से अभी तक कोई ठोस कार्यवाही नही हुई है।आम जनता की मांग है कि वहाँ भी सरकारी पाइप लाइन की जल्दी से जल्दी व्यवस्था हो सके

Comments

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास