देश की दो से तीन तिहाई आबादी बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, सम्मान व सामाजिक न्याय से वंचित है-इंजी. प्रवीण निषाद

 
 

गोरखपुर (Gorakhpur), एकलव्य मानव संदेश रिपोर्ट, दिनांक 12.05.2018। आज शनिवार को एकलव्य  वेलफेयर सोसाइटी के तत्वाधान में निषाद समाज के बच्चों को स्कॉलरशिप व खेलकूद पढ़ाई-लिखाई में बच्चों द्वारा किए गए अच्छे कार्यों को लेकर उनको सम्मानित भी किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल के गठबंधन के सदर सांसद इंजीनियर प्रवीण निषाद जी मौजूद रहे। सांसद आज ही दिल्ली से वापस लौटे और हवाई अड्डे से सीधे कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे और पूर्वजों की फोटो पर माल्यार्पण करने के बाद सभा को संबोधित किया।
सांसद प्रवीण कुमार निषाद ने कहा कि अपार हर्ष का विषय है कि समाज के युवा व वरिष्ठ बुद्धिजीवी समाज की मुख्य चिंता शिक्षा स्वास्थ्य रोजगार सम्मान व सामाजिक न्याय के प्रश्न पर सोच रहे हैं और सकारात्मक दिशा में रास्ता खोजने के लिए उद्धत हैं। वैसे तो देश की दो से तीन तिहाई आबादी बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, सम्मान व सामाजिक न्याय से वंचित है, इसमें अति पिछड़ा समाज विशेषकर उत्तर प्रदेश के 17 अति पिछड़ी जातियों को जिसमें निषाद कश्यप समाज प्रमुख है, को सरकारों ने न केवल अब तक वंचित किया है। बल्कि इन प्रश्नों पर सचेत रूप से किसी भी प्रकार के संरक्षण व प्रोत्साहन से दूर रखा है। विगत वर्ष केंद्र सरकार ने सामाजिक आर्थिक जनगणना का एक अंश जातिवार गणना को छोड़कर प्रकाशित किया है। उसके अनुसार एक 30% लोगों के पास कोई जमीन नहीं है, 27% लोग आवास विहीन हैं, 34% लोगों के पास कोई जीविका का साधन नहीं है, एक तिहाई हिस्से बच्चे प्राइमरी के बाद पढ़ाई छोड़ देते हैं, इतने ही कुपोषित भी हैं। माध्यमिक शिक्षा के बाद उच्च शिक्षा, व्यवसायिक शिक्षा में मात्र 10% ही पहुंच पा रहे हैं। जाहिर तौर पर इन सब में शोषित व पिछड़ा समाज अव्वल होगा।
       आज वक्त की जरूरत है कि उपरोक्त बिंदुओं शिक्षा स्वास्थ्य रोजगार सम्मान व सामाजिक न्याय को सामाजिक जागरुकता अभियान चलाते हुए सरकारों पर भी कारगर दबाव बनाने का कार्यभार लिया जाए। और तमाम बाधाओं को तोड़ते हुए समाज के जो लोग मुकाम हासिल कर लिए हैं विभिन्न क्षेत्रों में जो लोग संघर्षरत हैं उनको उनको खोज निकाला जाए। और समाज के अधिकतम लोगों को बेहतर जीवन देने की दिशा में कदम बढ़ाया जाए। निक्की निषाद मीडिया प्रभारी निषाद पार्टी द्वारा जारी विज्ञप्ति में यह बात कही गई है।

Comments

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास