मोदी-योगी सरकार (Government) में भी विद्युत विभाग (Power Department) से किसान परेशान हैं बुन्देलखन्ड(Bundelkhand) में

उरई, जालौन(Jalaun) (उत्तर प्रदेश), एकलव्य मानव संदेश रिपोर्टर, सत्य प्रकाश निषाद की रिपोर्ट, 07/05/2018। मोदी सरकार के चार साल के कार्यकाल के बावजूद भी बुन्देलखन्ड के जनपद जालौन में विद्युत विभाग के प्रधान कार्यालय उरई में प्रत्येक दिन अन्यदाता परेशान नजर आते हैं। क्योंकि इस भवन में प्रवेश करते ही विद्युत विभाग के कर्मचारी रुपयों के लिए हाथ फैलाये मिलते हैं। इस भवन में जालौन जिले के सभी विकास खंड के किसान आते हैं। जब अन्यदाता (किसान) नये टयूबवेल के कनेक्शन के लिये जाते हैं, तो उनको सिर्फ़ और सिर्फ़ निराशा ही हाथ लगती है। क्योंकि वहाँ पर किसी भी कर्मचारी से बात करो तो सीधे बोलते हैं  कि इतना रुपया दिजिये तभी काम होगा, नहीं तो नहीं होगा। यह धाँधली कब तक और चलेगी। यह तो प्रधान कार्यालय की बात थी, यही हाल है कदौरा विकास खंड कार्यालय का। क्या यही है मोदी सरकार की निति किसानों के प्रति।