बहराइच में निषादों पर घाघरा नदी की बाढ़ का कहर

बहराइच, उत्तर प्रदेश (Baharaich, Uttar Pradesh) एकलव्य मानव सन्देश ब्यूरो रिपोर्ट, 26 अगस्त 2018। बहराइच में निषादों पर घाघरा नदी की बाढ़ का कहर।
जनपद में बाढ़ व कटान से ग्यारह सौ रेती का बुरा हाल है। बाढ़ प्रभावित इलाकों में नदी से हो रहे कटान से डरे लोग कच्चे धान की फसल को जानवरों को खिलाने के लिए और खेतें पर लगे पेड़ों को काट-काट कर नावों से ले जा रहे हैं।
लोग धान व पेड़ काट कर किसी तरह लाते हुए और ज्यादा दुखी हो रहे हैं। सैकड़ो बीघा जमीन नदी में समा गयी है। लेकिन प्रशासन नजर अंदाज किये जा रहा है। बहराइच जनपद की कैसरगंज तहसील के ग्राम मंझार तौकली का नज़ारा इलाके की तस्वीर भयावाह दिखा रहा है।
       बहराइच जनपद का यह इलाका निषाद बाहुल्य है। योगी सरकार को बाढ़ से प्रभावित निषादों की स्थिति देखने के लिए शायद समय नहीं है।
अभी तक प्रशासन और शासन का कोई भी नुमाइंदा बाढ़ प्रभावित इलाकों में नहीं पहुंचने सरकारी मदद भी इन लोगों को नहीं पहुँच रही है। यह हाल है सबका साथ सबका विकास का ढोंग पीटने वाली सरकार का।