योगी राज में आवारा गाय बन रही हैं दुर्घटना का कारण

फतेहाबाद, आगरा, उत्तर प्रदेश (Fatehabad, Agra, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) रिपोर्टर संजय सिंह निषाद की रिपोर्ट, 3 सितम्बर 2018। योगी राज में आवारा गाय और पशुओं के सडक पर विचरण करने से हो रही हैं दुर्धटनाएं। विगत रात्रि आगरा फतेहाबाद मार्ग पर आवारा पशुओं को बचाते समय कैन्टर पलट गई।
सडकों पर घूमते हुए आवारा पशुओं की वजह से आयेदिन दुर्धटनाऐ हो रही हैं। इन आवारा पशुओं पर रोक लगाने के लिए न तो पशुपालक अपने पशुओं को बांध रहे हैं और न ही प्रशासन कोई कार्यवाही कर रहा है। इनकी वजह से आये दिन सडकों पर दुर्घटना होना आम बात हो गई हैं। विगत रविवार को  सिकन्दरा, कानपुर देहात से एक कैन्टर गाड़ी पेठे के फल भरकर आगरा के लिए रवाना हुई थी।जिसमें चालक नीरज ,क्लीनर रोहित तथा अजय मालिक निवासी गण जमौरा कानपुर देहात तथा व्यापारी शिवसिंह निवासी कुठोन, जिला जालौन सबार थे। रात्री के लगभग तीन बजे जैसे ही कैन्टर गाड़ी आगरा फतेहाबाद मार्ग पर गांव पलिया के पास पहुंची, तभी अचानक रोड पर आवारा गाय आ जाने के कारण चालक नीरज का संतुलन बिगड़ गया। और दो गायों को टक्कर मारते हुए गाड़ीपलट गई। जिससे दो गाय और क्लीनर गम्भीर रूप से घायल हो गए। सूचना मिलते ही प्रभारी निरीक्षक फतेहाबाद बृजेश कुमार सिंह मय पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंच गए तथा घायल को उपचार हेतु होस्पिटल भिजवाया।
इस तरह की घटनाएं आये दिन घटित होती रहती हैं। चाहे वह आगरा बाह रोड हो या फिर फतेहाबाद शमसाबाद रोड। इन रोडों पर चाहे दिन हो या फिर रात, आवारा पशुओं के झुंड के झुंड विचरण करते हुए देखे जा सकते हैं।