निषाद पार्टी का तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर हुआ प्रारम्भ

लखनऊ, उत्तर प्रदेश (Lucknow, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव सन्देश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो रिपोर्ट, 20 अक्टूबर 2018। निर्बल इन्डियन शोषित हमारा आम दल (निषाद पार्टी) का लखनऊ फैज़ाबाद रोड स्थित प्रांतीय कार्यालय पर आज 20 अक्टूबर से तीन दिवसीय कार्यकर्त्ता प्रशिक्षण शिविर प्रारम्भ हुआ। इस प्रशिक्षण शिविर में उत्तर प्रदेश का साथ दिल्ली और मध्य प्रदेश के कार्यकर्ता भी भाग ले रहे हैं।
   निषाद पार्टी एक कैडर बेस्ड पार्टी है। इस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष समय समय पर अपने पदाधिकारियों की कार्यकुशलता बनाये रखने के लिए 3 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करते रहते हैं। आज प्रारम्भ हुआ शिविर आगामी मध्य प्रदेश चुनाव को ध्यान में रख कर किया जा रहा है। निषाद पार्टी ने समाजवादी पार्टी और गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के साथ मिलकर 2018 का मध्य प्रदेश विधान सभा चुनाव लड़ने का फैसला लिया है।
    इस प्रशिक्षण शिविर से पार्टी 2019 में उत्तर प्रदेश में बेहतर प्रदर्शन के लिए भी तैयारी कर रही है। उत्तर प्रदेश की भाजपा की योगी सरकार ने 17 जातियों के आरक्षण के लिए अभी तक कोई कदम नहीं उठाये हैं और कोर्ट में भी सरकार ने कोई मजबूत पैरवी नहीं की है। इस बात को भी दमदार तरीके से समस्त निषाद वंशीय समाज के लोगों तक पहुंचाने के लिए पदाधिकारियों को प्रशिक्षित करना जरूरी है, जिससे वे आम जनता में निषाद पार्टी के रुख को दमदार तरीके से रख सकेंगे।
     निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष महामना डॉ. संजय कुमार निषाद के ने आज प्रशिक्षण देते हुए उपस्थित कार्यकर्ताओं को भाजपा की केंद्र और प्रदेश की सरकारों के सभी मोर्चों पर फैल होने के साथ मेंहगाई, भृस्टाचार, बेरोजगारी की अब तक की सबसे बड़ी जनक बताया। जब चुनाव आते हैं तो भाजपा को मंदिर, मस्जिद और हिन्दू मुस्लिम याद आते हैं और जनता के मुद्दे पीछे करने के लिए सभी माध्यम को लगाया जाता है। इनसे कैसे निपटा जाय और निषाद आरक्षण पर एक बार फिर से मजबूत आंदोलन छेड़ा जाय ये रणनीति भी इस प्रशिक्षण शिविर में पार्टी बनाने वाली है।
प्रशिक्षण शिविर को संबोधित करते हुए डॉ.संजय कुमार निषाद ने कहा धर्म एक अफीम है। जिसे पिता चाटता है और असर बेटे पर जाता है। जो सत्ता आपको बर्बाद कर रही है उससे आबाद होने के लिए आपको घर से निकलना होगा।