खतरनाक ! खतरनाक ! भारत को आर्यावर्त बनाकर मनु के विधान से चलाना चाहते हैं

मुम्बई, महाराष्ट्र ( Mumbai, Maharashtra), एकलव्य मानव सन्देश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो के लिये धीरज नन्दा की रिपोर्ट, 24 अक्टूबर 2018। दोस्तो भारत को पुनः आर्यवर्त बनाने की पुनरावृति शुरू हो रही है। अब भारत में प्रजातान्त्रिक संविधान की जगह मनुवादी विधान शुरू करने पर जोर दिया जा रहा है। भारतीय आदिकिसान, ट्राईवल्स, घुन्तुओं, जल जंगल जमीन के सरक्षक भील, बंजारे, निषदों आदिवासीयों की समझ में नहीं आ रहा है ये कुचक्र। इनमें भी कुछ आस्तीन के सांप व थाईयों (विदेसी आर्यों) के पालतू तीतर हैं। जो उनके लिए भी घातक है। कहीं सवरीमाला मंदिर के नाम पर, कहीं राम मंदिर के नाम पर कहीं हिन्दू मुस्लिम के नाम पर, कहीं आरक्षण के नाम पर, कहीं एससी, एसटी एक्ट के नाम पर, देश को गुमराह करने का कार्य किया जा रहा है, जिससे 2019 में सत्ता पर पुनः कब्ज़ा करके अपने मकसद को पूरा किया जा सके।
    आज सभी शासन, प्रशासन, न्याय प्रणालियों पर इंनका कब्जा हो चूका है। इसलिये अब नहीं चेते तो आपकी आने वाली पीढ़ी आपको माफ़ नहीं करेगी।
खतरनाक ! खतरनाक ! भारत को आर्यावर्त बनाकर मनु के विधान से चलाना चाहते हैं।

Comments

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास