गैंगरेप में 15 लोगों के नाम रायबरेली में दर्ज हुई रिपोर्ट, भाजपा आरएसएस के बड़े चेहरे शामिल

रायबरेली, उत्तर प्रदेश (Raibareli, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो रिपोर्ट, 13 नबम्बर 2018। जनपद रायबरेली के पूर्व विधायक गजाधर सिंह, वाणिज्य कर कमिश्नर सत्येंद्र सिंह गौतम सहित 15 लोगों के खिलाफ गैंगरेप पीड़िता की तहरीर पर सदर कोतवाली में सामूहिक बलात्कार की एफआईआर दर्ज की गई है।
     गैंगरेप पीड़िता का कहना है कि आरोपी मामले में सुलह करने के लिए उसे फोन कर धमका रहे हैं। बीते सोमवार को रायबरेली से आई युवती ने मुख्यमंत्री आवास के सामने आत्मदाह का प्रयास किया था। उसने पुलिस पर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई न करने का आरोप लगाया था। अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद पीड़िता ने आरोप लगाया है कि फोन करके सुलह के लिए उसे धमकाया जा रहा है। उसे इंसाफ चाहिए।
    गैंगरेप पीड़िता पीड़िता के मुताबिक अब तक किसी आरोपी को नहीं पकड़ा गया है। आरोपी उसके मोबाइल पर फोन करके मामले में सुलह करने के लिए उसे धमका रहे हैं। उसके खिलाफ पुलिस से मिलकर फर्जी एफआईआर लिखवा दी गई है। पुलिस आरोपियों को बचाने का कार्य कर रही है।
      जिन लोगों के खिलाफ पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की है वे हैं- पूर्व विधायक गजाधर सिंह, आरएसएस के भानु प्रताप सिंह, महाराजगंज ब्लॉक प्रमुख सत्येंद्र सिंह, ब्लॉक प्रमुख सत्येंद्र के जीजा विनोद सिंह, राकेश सिंह, वाणिज्य कर कमिश्नर सत्येंद्र सिंह गौतम, निखिल सिंह, लाखन सिंह, दिनेश चौधरी, अनामिका, आरबी सिंह, मिंटू सिंह, काशी सिंह, राजेश्वरी सिंह, नीलम। इनके खिलाफ गैंगरेप और आत्महत्या के लिए प्रेरित करने की एफआईआर दर्ज की है। पुलिस ने जांच शुरु कर दी है। जांच के बाद जल्द ही गिरफ्तारियां की संभावना व्यक्त की गई है।
   

Comments

  1. इन को कड़ी से कड़ी सजा सुनाई जाये

    ReplyDelete

Post a Comment

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास