स्व.जमुना प्रसाद निषाद के पुण्यतिथि पर सांसद ईं.प्रवीण निषाद ने योगी आदित्यनाथ को वायदा निभाने की दिलाई याद

गोरखपुर, उत्तर प्रदेश (Gorakhpur, Uttar Pradesh), से एकलव्य मानव संदेश (Eklavya MamaM Sandesh) के लिए निक्की निषाद की रिपोर्ट, 20 नवम्बर 2018। स्व.जमुना प्रसाद निषाद के पुण्यतिथि पर सांसद ईं.प्रवीण निषाद ने योगी आदित्यनाथ को वायदा निभाने की दिलाई याद।
      निषाद समाज के प्रेरणाश्रोत, लौहपुरुष स्व. जमुना निषाद जी की 19 नवम्बर को 8 वीं पुण्यतिथि के अवसर पर पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ गांधी प्रतिमा पर दीप प्रज्वलित कर श्रद्धांजली अर्पित की गई और मांग की गई कि स्व. जमुना निषाद जी की हत्या की सीबीआई जांच हो।
अवगत हो कि केवट, मल्लाह, कहार, कश्यप, निषाद, रैकवार, वाथम, कुम्हार, प्रजापति, धीवर, धीमर, भर, राजभर, आदि को अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र जारी करने व समस्त प्रसुविधा देने का शासनादेश समस्त जिलाधिकारियों को हुआ है, साथ ही भाजपा के घोषणा पत्र में मछुआरों की पर्यायवाची जातियों को अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र जाऱी कराना शामिल था। श्रधांजलि अर्पित करने के बाद
        पत्रकारों से बात करते हुए गोरखपुर के सांसद ईं.प्रवीण कुमार निषाद ने कहा कि मैं उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ जी को याद दिलाना चाहता हूँ कि 7 जून 2015 के कसरवल, सहजनवां गोरखपुर में रेल रोको आन्दोलन के पक्ष में 2 जूलाई 2015 को मंडलायुक्त कार्यालय पर भाजपा मछुआ प्रकोष्ठ के धरना-प्रदर्शन में शामिल होकर तत्कालीन सांसद व वर्तमान मा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सदन में आवाज उठाकर सडक से संसद तक लड़ने की वकालत करने को कहा था कि मछुआरों की पर्यायवाची जातियों को संविधान की सूची में दर्ज मझवार, गोंड, तुरेहा, बैलदार, कोरी, कोली, को सरकार बनने पर मझवार अनुसूचित जाति का प्रमाण पत्र जारी होगा। जो अभी तक पूरा नहीं किया।
       एक तरफ भाजपा मछलीशहर लोकसभा सुरक्षित सीट से मछुआ समुदाय के रामचरित्र निषाद को सांसद बनाती है और वहीं दूसरी तरफ गरीब निषाद, कश्यप, मछुआरों को अनुसुचित जाति का प्रमाण पत्र जारी नहीं कर उनके खिलाफ धोखा एवं वादा खिलाफी कर रही है।
     कार्यकम में मुख्य रुप से समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष प्नहलाद यादव, क्षात्र सभा की अलू प्रसाद, अमर पासवान, आजम लारी, पंकज शाही, अवधेश यादव, संजय पहलवान, सुरेन्द्र निषाद, राजकूमार निषाद, बहादुर निषाद, रवीन्द्र मणी निषाद, बाबूराम, श्रवण निषाद, आदि सैकडों लोग उपस्थित थे।
       माल्यर्पण के बाद सांसद ईं.प्रवीण कुमार निषाद स्व.जमुना प्रसाद निषाद की समाधी स्थल पर अयोजित कार्यक्रम में भाग लेने पहुंचे।


Comments

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास