गर्व से कहो तुम हिन्दू हो ? यही शब्द मूलवासियों को सत्ता से दूर करने के लिए काफी है ??

अलीगढ़, उत्तर प्रदेश (Aligarh, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो रिपोर्ट, 22 दिसम्बर 2018। गर्व से कहो तुम हिन्दू हो ? यही शब्द मूलवासियों को सत्ता से दूर करने के लिए काफी है ?? यानी मूलवासी एससी + एस टी + ओ बी सी, को राजनीति से दूर रखने के लिए एक ही शब्द काफी है। और वह है- गर्व से कहो तुम हिन्दू हो ?।
      भारत रत्न बाबा साहब डॉ. भीमराव अंबेडकर साहब ने भारत के दबे कुचले सभी जाति धर्म के लोगों को वोट का अधिकार केवल वोट डालने के लिए नहीं दिया था। उन्होंने यह अधिकार इसलिए दिया था कि मूलवासी भारतीय खुद इस देश के शाषक बन सकें। क्योंकि की वोट में मूलवासी भारतीयों की संख्या 80 प्रतिशत है और जिनके वोट ज्यादा हैं सत्ता में भी उन्हीं को शीर्ष पर होना चाहिए, जिससे मूलवासी बहुसंख्यक अपने भाग्य का फैसला खुद ले सकें। क्योंकि इनका सदियों से सत्ता और बाहुबल के द्वारा ही शोषण और इन पर अत्याचार होते आये हैं।
   लेकिन जब वोट के अधिकार से सत्ता की चाबी के करीब मूलवासी पहुंचने लगे तो धूर्त और विदेशी मूल के लोंगो ने इनको बहकाने का अपना सबसे मजबूत हथियार निकाल दलिया और वह हथियार है धर्म की घुट्टी। जी हाँ, आपस में लड़ाने के लिए हिन्दू का प्रचार। हिन्दू धर्म पर संकट का प्रचार। हिन्दू मुस्लिम के नाम पर आपस में दरार पैदा करके अपनी सत्ता कायम रखने का प्रचार।
इसलिए सभी मूलवासी एससी + एस टी + ओ बी सी लोगो आप गर्व इस बात में मत कीजिए कि आप हिन्दू हो, गर्व इस बात पर करिए कि आप भारतीय हो। जय हिन्द।

Comments

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास