संविधान में निषादों का आरक्षण लिखा है, उसे लेने के लिए अपनी ताकत दिखानी जरूरी है-डॉ. संजय कुमार निषाद

जहानाबाद, फतेहपुर, उत्तर प्रदेश (Jahanabad, FatehpFat, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो रामबहादुर निषाद की रिपोर्ट, 19 दिसम्बर 2018। महामना डॉ. संजय कुमार निषाद ने फतेहपुर जनपद में विशाल जनसभा में निषादों को आरक्षण प्राप्ति का पाठ पढ़ाते हुए कहा संविधान में निषादों का आरक्षण लिखा है, उसे लेने के लिए अपनी ताकत दिखानी जरूरी है। 20 दिसम्बर 2018 से प्रयागराज इलाहाबाद के श्रंगवेरपुर स्थिति निषाद राज गुह्यराज महाराज के किले निषाद आरक्षण यात्रा प्रारंभ की जा रही है जो तीन चरणों में पूरे उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में होते हुए दिल्ली में बड़े प्रदर्शन के बाद समाप्त होगी। इस यात्रा में आपने अपने वाहनों से अधिक से अधिक संख्या में निकल कर सड़क पर अपनी ताक़त दिखाने के लिए तैयार रहें। इस यात्रा के दौरान गोरखपुर में उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ का घेराव करके उनका वायदा याद दिलाया जाएगा कि अगर आप असली रघुवंशी हो तो अपने किये हुए वायदे के अनुसार निषाद आरक्षण को लागू करो।
    18 दिसम्बर को फतेहपुर जनपद के जहानाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम रोशनपुर में निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष महामना डॉ. संजय कुमार निषाद ने अपने पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं तथा दबी कुचली निषाद समाज के लोगों को अपने सुविचारों से संबोधित करते हुए जागरूक किया और कहा कि निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल (निषाद पार्टी) आपकी है और आप सभी के उत्थान हेतु ही ये हमने पार्टी का गठन किया है। जिसमें आप सभी निषाद पर्यायवाची शब्द प्रजाति के लोगो को कहीं भी किसी भी अन्य पार्टियों को अपना बहुमूल्य मत किसी के बहकावे में नहीं देना है। सिर्फ और सिर्फ अपनी निषाद पार्टी को मत देकर हर सम्भव 2019 के चुनाव व हर आने वाले चुनाव पर अपना कीमती वोट देना है। किसी भी ठगी पार्टियों संग नहीं जाना है औऱ न ही उन पार्टियों को वोट देना है। फिर देखें आप अपनी ताकत, आपकी पार्टी होगी, आपका नेता होगा, आपकी सरकार होगी, आपके ही लोग होंगे, आपका विकास भी होगा और विकास होगा तो हर तरह से परिवार आपका खुशहाल होगा।
      आरक्षण के मामले बोलते हुए बताया कि पिछले कई दशक, वर्षों से निषाद समाज का आरक्षण लागू है, लेकिन जो भी सरकारे आयीं, हमारे लोगों को बिकाऊ समझकर ठगने का कार्य किया। सभी पार्टियों ने आज तक माननीय उच्च न्यायालय के आदेशों का निर्वहन नहीं किया है। क्योंकि वह जानते हैं, इन्हें आरक्षण के दायरे में रखना ठीक नहीं है। इन्हें ऐसे ही इस्तेमाल करते रहो। इसलिए आप सभी निषाद, विश्व विख्यात धनुर्धारी एकलव्य व महाराजा निषाद राज गुह्य के वंसज जागो और आने वाली संतानों को गुलामी से मुक्ति दो।आपसी झगड़े को आपस में बैठकर समझौता करो, अपने व अपने समाज के प्रति  जागरूकता से इस अभियान को बढ़ाते हुए आगे बढ़ो।
         डॉ. संजय कुमार निषाद ने आगे कहा, केवल आप तीन आदतों को त्याग दें, गुलामी, शराब और गंदी आदतें तो आप स्वयं जागरूक हो जाएंगे। हर चुनाव में जिस व्यक्ति को भी अपनी निषाद पार्टी टिकट दे आप उसे ही अपने बहुमूल्य वोट को देकर विजयी घोषित कराएं, तभी आपका लेविल बदलेगा औऱ आपकी सत्ता आयेगी।
      इस कार्यक्रम में मुख्यअतिथि राष्ट्रीय अध्यक्ष महामना डॉ. संजय कुमार निषाद, निषाद आरक्षण के लिए 7 जून को गोरखपुर के मगर में अपनी जान न्यौछावर करने वाले वीर शहीद अखिलेश सिंह निषाद के पिता जी आत्मा राम निषाद,  कांती मझवार (प्रदेश अध्यक्ष महिला मोर्चा), भगवती देवी निषाद (मंडल अध्यक्ष महिला मोर्चा कानपुर), कमलेश कुमार निषाद (जिला अध्यक्ष), रोहित निषाद, राम शंकर निषाद, मनोहर लाल निषाद (वैद्य जी), आर.बी. निषाद, अनंतू निषाद चौडगरा, प्रमिला निषाद, रामकिशन फौजी, शिवशंकर निषाद, रामू, शकूराबाद, इन्द्रपाल निषाद आदि के साथ कई सैकड़ा ग्रामीण निषाद समाज के लोगों की मौजूदगी रही।