चम्बल का पानी पीने को मजबूर गुढ़ा गाँव के निषाद

जैतपुर कलां, बाह, आगरा, उत्तर प्रदेश (Jaitpur Kalan, Bah, Agra, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव सन्देश (Eklavya Manav Sandesh), सहायक रिपोर्टर धनसिहं निषाद के साथ सुरेंद्र सिंह वर्मा की रिपोर्ट, 08 जून 2019। ग्राम पंचायत सिमराई के उप ग्राम गुढा़ जो निषाद बाहुल्य है, और नन्दगवाँ पिनाहट मार्ग, अभय पुरा चौराहे से लगभग 10 किमी. ऊबड़ खाबड़ जंगल के बीच से गुजरता रास्ता चम्बल नदी के किनारे बसा हुआ है। इस गुढा़ गाँव से आने जाने के लिये गाँव वालों को बहुत कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है और गांव के सभी हैण्ड पम्प खराब हो चुके हैं। इस भीषण गर्मी में यहाँ के निषादों को पीने के लिये पानी का एकमात्र सहारा चम्बल नदी है।
   गुढ़ा गांव के लोगों लिए न तो आने जाने के लिए रास्ता है और ना ही पीने के लिए पानी की सुविधा। इसलिए चम्बल का दूषित पानी पीने के लिए ग्रामवासी मजबूर हैं।   
    केदार सिंह निषाद व अमरसिहं निषाद व बैजनाथ सिंह निषाद व भौंदेलाल निषाद, एवरनसिहं निषाद आदि इन लोगों का कहना है कि इस गांव की 700 की आबादी है। लेकिन यहाँ पर कोई नेता, सांसद, विधायक या कोई प्रशासनिक अधिकारी, हमारी समस्या को सुनने के लिए नहीं आता है। यहाँ के निवासी मूलभूत सुविधाओं से आज तक वंचित हैं।

Comments

  1. डा संजय निषाद जी इस समस्या को देखिए
    🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏
    निषाद पार्टी जिन्दा बाद

    ReplyDelete

Post a Comment

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास