मध्यप्रदेश के चन्देरी में हुआ खूनी संघर्ष, प्राणघातक हमले में जानू रायकवार की मौत दो की हालत गंभीर

चन्देरी, अशोक नगर, मध्य-प्रदेश (Chanderi, Ashok Nagar, Madhya Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो मुकेश रायकवार की रिपोर्ट, 17 अगस्त 2019। मध्यप्रदेश के चन्देरी में हुआ खूनी संघर्ष, प्राणघातक हमले में जानू रायकवार की मौत दो की हालत गंभीर।
(मृत व्यक्ति के परिजनों ने शव को चौराहे पर रखकर किया चक्काजाम)
मध्य-प्रदेश के जनपद अशोक नगर के चंदेरी थाना अंतर्गत ग्राम डुगासरा में बीती 15 अगस्त को शाम 4 से 5 बजे के बीच दो युवकों ने चार युवकों पर प्राणघातक हमला किया, जिसमें से एक युवक तो अपने प्राण बचाकर भाग आया, लेकिन तीन लोगों पर आरोपियों ने चाकू से वार करते हुए गंभीर चोटें पहुंचाईं, जिसमें से एक व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई।
        घटना की सूचना जैसे ही पुलिस को दी तो बड़ी संख्या में पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को सिविल अस्पताल चंदेरी लाई जहां पर डॉक्टरों ने जानू रैकवार को मृत घोषित कर दिया, वा संजू राजा एवं नंदलाल कोली की हालत गंभीर होने पर प्राथमिक उपचार के बाद रेफर कर दिया गया। जिसमें नंदलाल कोली का झांसी में उपचार किया जा रहा है एवं संजू राजा का ग्वालियर के अस्पताल में उपचार किया जा रहा है।
      पुलिस ने गोविंदा कुशवाहा पुत्र भुजबल कुशवाहा की फरियाद पर आरोपियों के विरुद्ध धारा 302, 307, 323, 34 एवं एससी/एसटी एक्ट अपराध क्रमांक 424 /19  के तहत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। इस जघन्य काण्ड की विवेचना एसडीओपी चंदेरी लक्ष्मी सिंह के द्वारा की जा रही है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को अपनी अभिरक्षा में ले लिया है।
      15 अगस्त को हुए खूनी संघर्ष में परिजनों को जैसे ही जानू रैकवार की मृत होने की सूचना मिली तो परिजनों ने सिविल अस्पताल के सामने रोड पर बैठकर चक्का जाम किया। प्रशासन के आश्वासन के कुछ समय बाद परिजन वहां से उठ गए।
     16 अगस्त शुक्रवार को जब जानू रैकवार के शब को अंतिम संस्कार को ले जाया जा रहा था तो बीच रास्ते में परिजनों ने चुंगी नाका तिराहे बाईपास रोड पर शव रखकर चक्काजाम किया और जमकर नारे लगाए। परिजनों ने मांग की हत्यारों को फांसी दी जाए और दोषियों पर कड़ी दंडात्मक कार्रवाई हो, जिससे आगे शहर में इस तरीके की घटना ना घटे।इस घटना से पूरे नगर में दहशत का माहौल बना हुआ है।
     स्वतंत्रता दिवस पर हुए इस जघन्य हत्याकांड पर कानून व्यवस्था की स्थिति को जब नियंत्रण में नहीं लाया जा सका तो ,पुलिस ने अशोक नगर, गुना एवं शिवपुरी से पुलिस वल वुलाया ताकि स्थिति को नियंत्रण में लाया जा सके। इसके अतिरिक्त ग्वालियर से क्यूएसएफ टीम भी बुलाई गई।  प्रशासन के आश्वासन के बाद लगभग 3 से 4 घंटे के बाद परिजनों ने चक्काजाम बंद किया और उसके बाद अंतिम संस्कार किया।
      विधायक गोपाल सिंह चौहान ने तीनों व्यक्तियों को 20 -20 हजार की सहायता राशि दी एवं प्रशासन की ओर से भी 10 - 10 हजार रुपए की राशि दी गई एवं इसके अतिरिक्त एडिशनल एसपी सुनील कुमार ने मृतक के परिवार को 5000 रुपये की राशि भी तुरंत ही प्रदान की।

Comments

  1. ऐसा लोगो को कडी से कडी सजा दिया जाय

    ReplyDelete

Post a Comment

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास