एकलव्य मानव संदेश के डिजिटल संस्करण ने पूरे किये अपनी स्थापना के 2 साल


अलीगढ़, उत्तर प्रदेश (Aligarh, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो रिपोर्ट, 17 अप्रैल 2019।
एकलव्य मानव संदेश डिजिटल चैनल की स्थापना 16 अप्रैल 2017 को अलीगढ़ उत्तर प्रदेश (भारत) मे की गई थी। इससे पहले हम 28 जुलाई 1996 को एकलव्य मानव संदेश हिंदी साप्ताहिक समाचार पत्र की स्थापना कर चुके थे, प्रत्येक रविवार को अलीगढ़ से ही प्रकशित होता है। और इसका आरएनआई रजिस्ट्रेशन नम्बर 64540/2014 है।
   एकलव्य मानव संदेश समाचार पत्र डाक द्वारा पूरे भारत में भेजा जाता है, लेकिन डाक विभाग की लापरवाही से बहुत जगह यह नहीं पहुंच पा रहा था। और आज जब सभी क्षेत्रों में डिजिटल क्रांति हो रही है, तब समाचार पत्र के द्वारा समाचार देरी से पहुंच ने से ज्यादा प्रसार नहीं हो पाने से निषाद क्रांति का संदेश प्रभावित हो रहा था। ऐसे में मेरे सबसे छोटे पुत्र कमल सिंह निषाद (वर्तमान में बीटेक 3 rd ईयर अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में अध्ययनरत छात्र) ने इस डिजिटल चैनल को तैयार करके समाज को बड़ा योगदान दिया और निषाद पार्टी को मजबूती देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।
    एकलव्य मानव संदेश ने आज दुनिया के लगभग 50 देशों में अपनी पहचान बना ली है।
Eklavyamanavsandesh Hindisaptahik Samacharpatra और Jaswant Singh Nishad  दोनों facebook आईडी पर 5000-5000 साथी जुड़ जाने से अब और लोगों को नहीं जोड़ा जा सकता है। इस लिए आप फेसबुक पर आप हमसे जुड़ने के लिए हमारे पेज की नीचे दी गई लिंक
https://m.facebook.com/eManavSandesh/?refsrc=http%3A%2F%2Fwww.eklavyamanavsandesh.com%2F
 को लाइक करके भी जुड़ सकते हैं।
फेसबुक पर हमारे ग्रुप से जुड़ने के लिए नीचे दी गई लिंक को किलिक कीजिए-
https://www.facebook.com/groups/2017711221777673/

ट्यूटर पर हमें फॉलो करने के लिए लिंक
https://twitter.com/intent/follow?original_referer=https%3A%2F%2Fwww.eklavyamanavsandesh.com%2F%3Fm%3D1&ref_src=twsrc%5Etfw&region=follow_link&screen_name=JaswantSNishad&tw_p=followbutton

एकलव्य मानव संदेश के इस 2 वर्ष पूरे होने पर सभी सहयोगी साथी और 300 के लगभग रिपोर्टरों जो उत्तर प्रदेश के साथ बिहार, मध्यप्रदेश, दिल्ली, राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के साथ विदेश में ओमान तक फैले हुए हैं, सभी शुभ चिंतको व मेरे परिवार के सभी सदस्यों जो अपनी समस्याओं को भूल कर इस निषाद क्रांति में सहयोग दे रहे हैं व निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष महामना डॉ.संजय कुमार निषाद जी सहित सभी को हार्दिक आभार के साथ हार्दिक शुभकामनाएं और आशा करता हूँ कि आगे भी आप सभी हमारा साथ देकर एकलव्य मानव संदेश को नई ऊंचाई तक ले जाने में सहयोग प्रदान करते रहेंगे।

धन्यवाद
आपका साथी
डॉ. जसवन्त सिंह निषाद
संपादक, प्रकाशक
एकलव्य मानव संदेश
1.हिंदी साप्ताहिक समाचार पत्र

2.ऐप (प्ले स्टोर से Eklavya Manav Sandesh लिखकर या नीचे दी गई
https://goo.gl/BxpTre
लिंक को किलिक करके डाऊनलोड कर सकते हैं)

3.वेवसाईट
www.eklavyamanavsandesh.com
(2434 खबरें अब तक प्रकाशित)

4. यूट्यूब चैनल (लगभग 24 हज़ार सब्सक्राइबर के साथ तेज़ी से बढ़ाता यूट्यूब चैनल जो अब तक 637 निषाद पार्टी की खबरें वीडियो के रूप में और 681 जन सामान्य की समस्याओं की प्रकाशित कर चुका है)

5.Nishad Patrika यूट्यूब चैनल (2200 से ज्यादा सब्सक्राइबर के साथ तेज़ी से बढ़ाता यूट्यूब चैनल)

बिना आर्थिक सहयोग के कोई भी क्रांति संभव नहीं है। आप अपने दुकान, व्यवसाय, प्रतिष्ठान आदि के विज्ञापन देकर हमारा सहयोग जरूर करते रहें, जिससे हम इस डिजिटल क्रांति को तेजी से आगे बढ़ाने में अग्रसर हो सकें।

रिपोर्टर बनने के लिए भी संपर्क कर सकते हैं।

पता-
कुआरसी, रामघाट रोड, अलीगढ़, उत्तर प्रदेश, 202002,
व्हाट्सएप नम्बर 9457311662
मोबाइल नंबर 9219506267

Comments

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास