एकलव्य आर्मी की पहली जीत, डरी भाजपा की योगी सरकार, लगभग दो माह बाद NIC पर अपलोड किए 17 जाती के शासनादेश

अलीगढ़, उत्तर प्रदेश (Aligarh, Uttar Pradesh), एकलव्य मानव संदेश (Eklavya Manav Sandesh) ब्यूरो रिपोर्ट, 20 अगस्त 2019। एकलव्य आर्मी की पहली जीत, डरी भाजपा की योगी सरकार, लगभग दो माह बाद NIC पर अपलोड किए 17 जाती के शासनादेश।


     आज दिनांक 20 अगस्त 2019 को उत्तर प्रदेश सरकार की NIC की साइट पर 12 जून 2019 और 24 जून 2019 को जारी 17 जातियों के अनुसूचित जाति के प्रमाण पत्र के शासनादेश, एकलव्य आर्मी के होने वाले 23 अगस्त 2019 के प्रदेश व्यापी ज्ञापन आंदोलन को देखते हुए अपलोड कर दिए गए हैं।
   लेकिन अभी सरकार ने 17 जातियों के नाम पिछड़े वर्ग की NIC की सूची से नहीं हटाये हैं। इसलिए जब तक इन जातियों के नाम NIC की पिछड़े वर्ग की सूची से नहीं हटेंगे तब तक इन जातियों के SC के प्रमाण पत्र सरकार कैसे जारी करती है यह देखना होगा।




    एकलव्य आर्मी ने सोशल मीडिया औऱ एकलव्य मानव संदेश डिजिटल चैनल पर पूरे देश से मिल रहे जबरदस्त समर्थन से उत्तर प्रदेश सरकार और निषाद पार्टी की नींद उड़ रही थी। इसी का परिणाम है कि अब सभी शासनादेश उत्तर प्रदेश सरकार की NIC साइट पर उपलब्ध हैं।



    एकलव्य आर्मी उत्तर प्रदेश सरकार से 17 जातियों के S.C. के प्रमाण पत्र जारी कराने के लिए अब 26 अगस्त को इन जातियों के नाम पिछड़े वर्ग की सूची से हटाने के लिए राज्यपाल और मुख्यमंत्री के नाम पूरे उत्तर प्रदेश के जिलाधिकारियों को ज्ञापन देगी, क्योंकि 23 अगस्त को जन्माष्टमी और 24 को चौथा शनिवार है।

(एकलव्य मानव संदेश की खबरें जिनसे उड़ी LIU के माध्यम से उत्तर प्रदेश सरकार की नींद एकबार आप भी देखें
1. मछुआ (कश्यप-निषाद) समुदाय की जातियों के SC आरक्षण की लड़ाई में शहीद अखिलेश निषाद ने कुर्बानी देकर जो बिगुल फूंका था उस वीर शहीद की कुर्बानी बेकार नहीं जाने देंगे - एकलव्य आर्मी
https://www.eklavyamanavsandesh.com/2019/08/sc.html
2. क्या निषाद SC आरक्षण पर भाजपा की सरकारें जानबूझकर धोखा दे रहीं हैं ?
https://www.eklavyamanavsandesh.com/2019/08/sc_13.html
3. भाजपा सरकार में गाजीपुर में मझबार के नये बने प्रमाण पत्र डरा धमकाकर किस के इशारे पर वापिस ले गए लेखपाल
https://www.eklavyamanavsandesh.com/2019/08/blog-post_15.html
4. निषाद पार्टी और भाजपा के गठबंधन के बाद 17 जातियों के आरक्षण पर अब तक के घटनाक्रम पर प्रकाशित एकलव्य मानव संदेश की विशेष रिपोर्ट
https://www.eklavyamanavsandesh.com/2019/08/17.html )

   एकलव्य मानव संदेश और एकलव्य आर्मी को सपोर्ट करने वाले सभी साथियों का हम तहेदिल से स्वागत करते हैं।
       17 जातियों के लोगों को तुरैहा, मझबार, गौंड, बेलदार, शिल्पकार के नाम से अनुसूचित जाति के लिए आवेदन ऑनलाइन करने होंगे।




Comments

  1. बहुत सुन्दर और अच्छा किया आप लोगों ने जिससे सभी जनता की भलाई होगी जय एक्लब्य आर्मी जय निषाद राज

    ReplyDelete
  2. अगर 17 जातियां एकजुट हो जाए तो असंभव कार्य को संभव कर सकते हैं हम सब एकत्रित होकर अपनी दम सरकार को दिखा सकते हैं

    ReplyDelete
  3. Bahut accha work sir

    Mai bhi AA RHA hu

    ReplyDelete

Post a Comment

हमारे प्रयास को अपना योगदान देकर और मजबूत करें

हमरी एंड्रॉइड ऐप मुफ्त में डाउनलोड करें

हमारे चैनल की मुफ्त में सदस्यता लें

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें

निषाद पार्टी न्यूज़

न्यूज़ वीडियो

निषाद इतिहास